कोराना के संक्रमण काल में राखी को वर्चुयल तरीके से मनायें

dr. j k garg
कोविड 19 महामारी के संक्रमण ने हमारे देश में अब तक सत्रह लाख से अधिक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है और 36000 से अधिक स्त्री पुरुष अकाल म्रत्यु के ग्रास बन चुके हैं | आजकल प्रतिदिन पचपन से साठ हज़ार के आसपास लोग रोज नये संक्रमित हो रहे है | इस महामारी से बचने का एक मात्र उपाय परस्पर कम से कम 2 गज की दूरी रखना, अपने घर में भी अन्य आगन्तुक के सामने अच्छी गुणवत्ता वाला मास्क लगाये रखना, साबुन या सेनेटाइजर से बार बार हाथ धोतें रहना, घर से अति आवश्यक कार्य से ही बाहर निकलना है | निसंदेह पर्व हमारे जीवन में महत्वपूर्ण होते हैं और पर्व सामाजिक पारिवारिक रिस्तों को मजबूत भी बनाते हैं किन्तु जीवन और सुस्वास्थ्य ज्यादा जरूरी है , अगर जीवन है तो पर्व अगले साल भी मना सकते हैं | आज की विषम और जानलेवा स्थति मे बिना भावुक हुये विवेक से निर्णय लें और राखी को परंपरागत तरीके से मनाने के बजाय सांकेतिक रूप में घर से बाहर निकले बिना ही वर्चुअल तरीके से मनाये, वीडियो के जरिये बहिन अपने भाई की कलाई में राखी बांधे और मोबाईल फ़ोन वीडियो के जरिये उन्हें बधाई दें |
अगर आप इन विचारों से सहमत हो तो इस विचार को अपने स्वजनों परिजनों मित्रों को फारवर्ड करें और उन्हें भी कोराना के संक्रमण काल में राखी को वर्चुयल तरीके से मनाने के लिये प्रोत्साहित कर अपने आपको स्वजनों को संक्रमण से बचायें |

डा. जे. के. गर्ग- श्रीमती डा. विनोद गर्ग

Leave a Comment

error: Content is protected !!