29वॉ क्षेत्रीय वालीबाल खेल समारोह का आयोजन

vidisha samacharस्थानीय सरस्वती षिषु/विद्या मंदिर, केषवनगर, टीलाखेडी में क्षेत्र स्तरीय वालीबाल खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन दिनॉक 14 एवं 16 अक्टूम्बर 2016 में हो रहा है । जिसका उद्घाटन कार्यक्रम दिनॉक 14.10.16 को दोपहर 4 बजे हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि मा0 शषिकांत जी फडके राष्ट्रीय स्वंय संघ प्रचारक एवं ग्रामीण क्षेत्र की षिक्षा के मध्यक्षेत्र प्रमुख एवं अध्यक्षता मा0 सुरेष जी गुप्ता विद्याभारती मध्यक्षेत्र के अध्यक्ष द्वारा की गई । विषेष अतिथि के रूप में श्री राकेष श्री शर्मा क्षेत्रीय कम्प्युटर षिक्षा प्रमुख , श्री अवधेष जी त्यागी विभाग समन्वयक , श्री रामजी सोनी संस्था अध्यक्ष एवं नगर के प्रतिष्ठित अधिवक्ता, डॉ0 जे0 एस0 चौहान विद्यालय के अध्यक्ष एवं एसएटीआई कॉलेज के डायरेक्टर एवं श्री धर्मनारायणजी चतुर्वेदी संस्था उपाध्यक्ष, समिति उपाध्यक्ष श्रीमती ज्योति शाह पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष एवं समिति सदस्य श्रीमती राजश्री वैद्य उपस्थित रहें । श्री संतोष जी शर्मा एवं श्री जयसिंह ठाकुर प्राचार्य भी उपस्थ्ति रहें ।

खेल समारोह में क्षेत्र से लगभग 228 प्रतिभागी प्रतियोगिताओं में सम्मिलित है । कार्यक्रम की भुमिका भोपाल विभाग समन्वय श्री अवधेष जी त्यागी ने उन्होने प्रतिभागी भैया/बहिनो से कहा की केवल खेल खेलने और जीतने के लिये नही खेलना चाहिए बल्कि सीखने के लिये भी खेलना चाहिए । मुख्य अतिथि ने अपने उद्बोधन में कहा कि ’’मानव जीवन में सघर्ष का महत्वपूर्ण स्थान रहा है । सघर्ष से ही शरीर मजबूत और स्वस्थ्य बनता है, उन्होने उदाहरण देते हुए आज के समय एक व्यक्ति रोटी कमाने के लिये श्रम कर रहा है और दुसरा व्यक्ति रोटी पचाने के लिये शारीरिक श्रम कर रहा है । यदि जीवन में श्रम न हो तो जीवन मे बोरीयत होने लगती है, और इस बोरियत को दूर करने के लिये हम जो शारीरिक श्रम करते है, उसे खेल कहते है । खेल का जीवन में महत्वपूर्ण स्थान को देखते हुए, विद्याभारती ने खेल को अपने पाठ्यक्रम में महत्वपूर्ण स्थान दिया है । तथा विद्यालय में भैया/बहिनों को एक कालांष अनिवार्य रूप से खेल का बनाया है । हमे खेल खेल भावना व टीम भावना के साथ खेलना चाहिए ।’’ अध्यक्ष महोदय ने बच्चो को मार्गदर्षन देते हुए कहा कि ’’ खेल और भाषण का कोई संबंध नही है । हमे ईमानदारी व पूरी जीवटता के साथ खेलना चाहिए तभी हम अपने अंतिम लक्ष्य तक पहुॅच सकते है ।
कार्यक्रम के संयोजक संस्था प्राचार्य श्री योगेन्द्र जी कुलश्रेष्ठ द्वारा आभार व्यक्त किया गया ।
मनोज कुमार तिवारी
प्रसार प्रमुख

Leave a Comment

error: Content is protected !!