पीआर 24X7 ने किया समाज के अनछुए वर्गों को सम्मानित

– सैनिक परिवार, थर्ड जेंडर और चतुर्थ श्रेणी सरकारी कर्मचारी को किया सम्मानित
– कंपनी के एक कर्मचारी ने निभाया वायुसेना के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान का किरदार
– भेंट किए गए शॉल, सर्टिफिकेट व उपहार

इन्दौर, मार्च 2019: पब्लिक रिलेशन सेक्टर की प्रमुख कंपनी पीआर 24ग7 नेटवर्क लिमिटेड वर्ष 1999 से देश के कई नए प्रोडक्ट्स व कंपनियों को एक ब्रांड के रूप में तब्दील कर चुकी है। अपने क्लाइंट्स को रिसर्च बेस्ड सर्विस उपलब्ध कराने के साथ उन्हें सर्वश्रेष्ठ सेवाएं देने के लिए कंपनी अपने मजबूत मीडिया रिलेशन्स का इस्तेमाल करती है, जिसके अंतर्गत प्रिंट व ऑनलाइन मीडिया प्लेटफॉम्र्स का एक व्यापक समूह शामिल है। कंपनी अपनी क्रिएटिव प्लानिंग्स और इवैल्यूएशन टेक्निक्स की बदौलत देश की कुछ गिनी-चुनी पीआर कंपनियों की लिस्ट में शीर्ष पर बने रहने में सफल रही है।

हाल ही में पीआर 24ग7 ने इंदौर स्थित कैफे भड़ास पर एक निजी कार्यक्रम के अंतर्गत समाज के उन अनछुए वर्गों को सम्मानित करने का काम किया, जिनके बारे में कम ही चर्चा सुनने को मिलती है। कार्यक्रम में ख़ास मेहमानों के तौर पर तीन अलग-अलग क्षेत्र से ताल्लुक रखने वाले सामान्य वर्ग के लोगों को आमंत्रित किया गया। जिनमें पुलवामा हमले के दौरान मौके पर मौजूद रहे जवान सुनील सेन की पत्नी श्रीमती सविता सेन, थर्ड जेंडर के लिए कार्य करने वाली सामजिक कार्यकर्ता आशा दीदी और चतुर्थ श्रेणी की सरकारी कर्मचारी, नगर निगम इंदौर की सफाईकर्मी श्रीमती विद्या कल्याण शामिल रही। कार्यक्रम के दौरान तीनों ही मुख्य अथितियों, सविता सुनील सेन, आशा दीदी और विद्या कल्याण को पीआर 24ग7 के फाउंडर अतुल मलिकराम द्वारा एक शॉल, सर्टिफिकेट व उपहार भेंट कर सम्मानित किया गया।
सम्मानित किए जाने के उपरान्त श्रीमती सविता सेन ने कहा कि, ’उन्हें इस बात पर गर्व है कि वह एक सैनिक की पत्नी है। इस प्रकार के आयोजन सैनिकों के परिवार वालों के हौसला अफजाई के लिए बेहद जरुरी हैं। खासकर कॉर्पोरेट जगत की तरफ से ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन कम ही देखने को मिलता है।’ इसके अलावा थर्ड जेंडर के लिए काम करने वाली सामाजिक कार्यकर्ता आशा दीदी और सफाई कर्मचारी विद्या कल्याण जी ने भी सम्मानित किए जाने को लेकर ख़ुशी व्यक्त की।
इस मौके पर कंपनी के फाउंडर अतुल मलिकराम ने कहा कि “एक जिम्मेदार नागरिक के तौर पर हमें उन मुद्दों को उठाने की जरुरत है जिस पर समाज का एक पढ़ा लिखा तबका भी बात करना पसंद नहीं करता है। हमें समाज को कोई मैसेज देने से पहले खुद में भी उन बदलावों को लाने की जरुरत होती है जिनके लिए हम समाज को प्रोत्साहित करने की बात कह रहे हैं। यह हमारी एक कोशिश है, जिसे हम आगे भी जारी रखने का प्रयास करेंगे।“
कार्यक्रम के दौरान पुलवामा हमले के बाद हुई कार्रवाई के दौरान पाकिस्तान से वापस लौटे भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान का किरदार निभाने वाले कंपनी के युवा कर्मचारी सुनील मालवीय भी सभी के आकर्षण का केंद्र रहे। पीआर 24ग7 पिछले लंबे समय से इस प्रकार के निजी कार्यक्रमों के जरिये सामाजिक मुद्दों को उठाने और समाज के अनछुए पहलुओं पर जोर देती आई है।
इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य ऐसे लोगों के प्रति सम्मान की भावना जागृत करना था जिनके मुद्दों को सरकारों से लेकर आम नागरिकों तक, सभी के द्वारा कम ही उठाया जाता है। इस कार्यक्रम के माध्यम से कंपनी ने सीमा पर तैनात सैनिकों के परिवारों, थर्ड जेंडर्स एवं स्वच्छता को सेवा समझने वाले सफाई कर्मचारियों के प्रति समाज को संवेदनशील होने, उनकी मनः स्थिति को समझने और उनके प्रति जिम्मेदार बनने का सन्देश दिया है।

Leave a Comment