सहज योग कर, प्रतिभा सिंटेक्स के कर्मचारियों ने मनाया अंतराष्ट्रीय योग दिवस

इंदौर: योग जीवन की मौलिक प्रक्रियाओं की खोज है। यह सभी धर्मों से पहले अस्तित्व में आया और इसने इंसान के लिए प्रकृति द्वारा तय सीमाओं से ऊपर उठने की संभावनाएं तलाशी। योग विज्ञान को इसके शुद्ध रूप में अपनाना हमारी आज की पीढ़ी की जिम्मेदारी है। आंतरिक विश्वास, खुशहाली और मुक्ति का यह विज्ञान, भावी पीढिय़ों के लिए सबसे बड़े उपहार की तरह है। इसी को ध्यान में रखते हुए 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर टेक्सटाइल क्षेत्र की अग्रणी कंपनी प्रतिभा सिंटेक्स लिमिटिड ने योग शिविर का आयोजन किया। यह शिविर कंपनी के पीथमपुर व इंदौर स्थित कार्यालय में योग संस्थान सहज योग के मार्गदर्शन में आयोजित किया हुआ।

इस योग शिविर में कंपनी के 300 सदस्य शामिल हुए और सहज योग के जरिये खुद को स्वस्थ रखने की एक पहल से जुड़ने का अनुभव किया। सहज योग की टीम ने कंपनी के कर्मचारियों को सहज योग के अनोखे अनुभव से लाभान्वित कराने के लिए प्रतिभा सिंटेक्स के पीथमपुर स्थित प्लांट और इंदौर स्थित कार्यालय का दौरा किया। कंपनी के प्लांट पर योग का प्रशिक्षण देने के लिए सहज योग के श्री वीरेंदर जैन भी मौजूद रहे। वहीं कंपनी के इंदौर कार्यालय पर योग प्रशिक्षण देने के लिए सहज योग के श्री मनीष मोरे अपनी धर्म पत्नी श्रीमती मनसा मोरे के साथ उपस्थित रहे। सहज योग में आसान मुद्रा में बैठकर मेडिटेशन किया जाता है। इसका अभ्यास करने वाले लोगों को ध्‍यान के दौरान सिर से लेकर हाथों तक एक ठंडी हवा का एहसास होता है। सहज योगा केवल एक क्रिया का नाम नहीं हैं, बल्कि यह एक तकनीक भी है। यह मुख्य रुप से आत्म बोध का प्रचार है जिससे कुंडलिनी जागृत होकर व्यक्ति के व्यक्तित्व में निखार लाती है।

योग प्रशिक्षण कार्यक्रम का हिस्सा बनी प्रतिभा के एचआर डिपार्टमेंट से सम्बंधित, जया मेहरा ने बताया कि कार्यक्रम में हुई सभी गतिविधियां शरीर को स्फूर्ति प्रदान करने वाली थी। सहज योग करने के बाद जया ने बाहरी शांति का अनुभव होने की बात स्वीकारी, साथ ही कंपनियों में काम करने वाले कर्मचारियों को तनाव से दूर रहने के लिए सहज योग से जुड़ने की सलाह दी। प्रतिभा सिंटेक्स समय समय पर इस प्रकार के जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन करती रहती है। पिछले दिनों संस्था ने पर्यावरण दिवस के मौके पर वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन भी किया था जिसमें कंपनी के तमाम कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों के साथ कैम्पस में सैकड़ों नए पेड़ लगाने का अभियान चलाया था।

Leave a Comment