शांति मिश्रा की पुण्यतिथि पर होंगे 51 कन्याओं के विवाह

छतरपुर – 25 फरबरी 2020 सीमावर्ती जनपद महोबा के ग्राम धौर्रा गांव में पंडित गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास के द्वारा दद्दा बाई स्मृति परिणय यज्ञ आयोजित किया जा रहा है। श्रीमती शांति मिश्रा (बाई)की तृतीय पुण्यतिथि के अवसर पर न्यास द्वारा 51 कन्याओं का सामूहिक विवाह कार्यक्रम मनाने जा रही है। जिसके संबंध में गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास के अध्यक्ष डॉ राकेश मिश्रा के निज निवास धौर्रा में एक बैठक रखी गई जिसमें सामूहिक विवाह कार्यक्रम की योजना बनाई गई एवं सभी को दायित्व पर गए। बैठक में पूर्व विधायक सर्वश्री पुष्पेंद्र नाथ पाठक समाजसेवी संतोष गंगेले कर्मयोगी , गजेंद्र सोनकिया, सन्नो सक्सेना ,राधे शुक्ला ,ब्रजेश राय ,सशांक मिश्रा सुशील पटैरिया, अजित जायसवाल , अनूप तिवारी , बबेले मम्मा , लोकेन्द्र मिश्रा। प्रवीण दुबे , श्रीराम रिछारिया ,नरेंद्र मिश्रा सुनील रावत , आदि सम्मानित नागरिक उपस्थित रहे। यह भी निर्णय लिया गया की इस सामूहिक विबाह में बुन्देलखण्ड के साथ साथ मध्य प्रदेश , अन्य किसी भी राज्य के सभी हिन्दू समाज के नागरिक अपनी बेटी -बेटा का विबाह का पंजीयन करा सकेगें.

पंडित गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास द्वारा प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्रीमती शांति मिश्रा की पुण्य तिथि के अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। इस आयोजन में भारतीय संस्कृति और संस्कारो रीति रिवाजो एबं बैबाहिक परम्परा का पूरा ध्यान रखने का निर्णय लिया गया। इस वर्ष न्यास द्वारा 51 कन्याओं के हाथ पीले करने का संकल्प लिया है। जिस के संबंध में मंगलवार को एक बैठक आयोजित की गई जिसमें कार्यक्रम की रूपरेखा बनाते हुए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। 11 अप्रैल शनिवार के दिल धौर्रा ग्राम के पंडित गणेश प्रसाद मिश्र खेल परिसर में 51 कन्या के सामूहिक विवाह का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसमें गाजे-बाजे के साथ धूमधाम से 51 घोड़ों पर सवार होकर एक साथ दूल्हों की बारात निकाली जाएगी साथ ही हिंदू रीति रिवाज के अनुसार पूरी विधि विधान से पाणिग्रहण संस्कार करा कर 51 कन्याओं के हाथ पीले कर उपहार भेंट करने के पश्चात सभी कन्याओं की शाम को विदाई की जाएगी।

कार्यक्रम का पंजीकरण एवं रूपरेखा
———–
51 सामूहिक कन्या विवाह हेतु पंजीयन कराने के लिए गणेश आई टीआई नौगांव ईशानगर चौराहा एवं ग्राम धौर्रा में केंद्र बनाया गया है। जो भी गरीब कन्या का विवाह दद्दा बाई स्मृति परिणय यज्ञ में करना चाहते हैं वह अपना पंजीकरण करा सकते है साथ ही अगर कोई कन्यादान में सहयोग करने हेतु सहभागी बनना चाहता है तो वह भी आकर अपना नाम लिखा सकता है।
सेवा न्यास के अध्यक्ष डॉ राकेश मिश्रा ने बताया वैवाहिक कार्यक्रम में 11 अप्रैल को सुबह 9 बजे से पंजीकरण व अल्पाहार शहनाई वादन के द्वारा कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी इसके पश्चात 10 से ग्राम में एक साथ घोड़े पर सवार होकर 51 दूल्हों की बारात भ्रमण की जाएगी एवं जगह-जगह पुष्प वर्षा से बारात का स्वागत किया जाएगा तत्पश्चात द्वारचार टीका की रस्म निभाई जाएगी। दोपहर 12 बजे वरमाला कार्यक्रम एवं मनोरंजन के लिए भजन संध्या एवं अन्य मंचीय कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे इसके साथ साथ भोजन व्यवस्था भी सुचारू रूप से चलती रहेगी। 1 बजे पाणिग्रहण संस्कार फेरे आदि रस्म निभाई जायेगी और 3 बजे उपहार भेंट के बाद कुंवर कलेवा किया जाएगा शाम 5 बजे विदाई की जाएगी।

Leave a Comment

error: Content is protected !!