एनएसडीसी ने युवाओं को टेक मार्केट के लिए जॉब-रेडी स्किल्स से लैस करने के लिए मेंटरकार्ट और आईआईटी गुवाहाटी के साथ साझेदारी की

नई दिल्ली, मार्च 2024: कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) के तत्वावधान में राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) ने डेटा साइंस, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग में पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेशन प्रोग्राम शुरू करने के लिए मेंटरकार्ट और आईआईटी गुवाहाटी के साथ एक एमओयू साइन किया है। इससे उन्हें रोजगारपरक बनाने के साथ ही और इन्डस्ट्री के लिए तैयार किया जा सकेगा।
यह पहल कटिंग-एज स्किल्स में क्रेडिट-बेस्ड सर्टिफिकेशन कोर्स शुरू करने पर केंद्रित है और टेक्नोलॉजी सेक्टर के भीतर इंटर्नशिप और रोजगार में उनके सुचारु ट्रान्ज़िशन की सुविधा प्रदान करेगी। एनएसडीसी के सीईओ और एनएसडीसी इंटरनेशनल के एमडी वेद मणि तिवारी और करियर एंड जॉबटेक प्लेटफॉर्म मेंटरकार्ट के सीईओ आशीष खरे के बीच इस एमओयू को एक्सचेंज किया गया।
इसे इन्डस्ट्री लीडर्स के एक्सटेन्सिव इनपुट के साथ बनाया गया है, जो करिकुलम की प्रासंगिकता सुनिश्चित करता है और रियल-वर्ल्ड प्रोजक्ट अवसरों को शामिल करता है। इसके अतिरिक्त, एनसीवीईटी और एनएसक्यूएफ गाइडलाइन्स के अनुरूप माइक्रो-क्रेडेंशियल्स के साथ फ्लेक्सिबल लर्निंग के विकल्प, निर्बाध कैरियर विकास के अवसरों के लिए मार्ग प्रशस्त होगा। इस प्रोग्राम में एक कैंपस इमर्ज़न ऑप्शन भी शामिल होगा, जो प्रैक्टिकल लर्निंग के माहौल को बढ़ाने के लिए एक सप्ताह का कैंपस इमर्ज़न अनुभव प्रदान करेगा।
इस साझेदारी पर बोलते हुए, एनएसडीसी के सीईओ और एनएसडीसी इंटरनेशनल के एमडी श्री वेद मणि तिवारी ने कहा, “एनएसडीसी में, हम लोगों को आज के डायनामिक जॉब मार्केट में आगे बढ़ने के लिए महत्वपूर्ण स्किल्स प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मेन्टरकार्ट के साथ हमारी साझेदारी हमारे इस प्रयास में एक महत्वपूर्ण कदम है। डेटा साइंस, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग में भारत के पहले आउटकम-ड्रिवन माइक्रोक्रेडिट कोर्स की यह पहल महत्वाकांक्षी टेक्निकल लोगों को अद्वितीय कैरियर एक्सीलेन्स की दिशा में एक परिवर्तनकारी यात्रा शुरू करने के लिए सशक्त बनाएगी.”।
छात्र क्वालिफाइड इन्सट्रक्टर से सीखेंगे और आईआईटी गुवाहाटी के अनुभवी प्रोफेशनल्स और इन्डस्ट्री लीडर्स से प्रैक्टिकल मार्गदर्शन प्राप्त करेंगे। यह अनूठी साझेदारी इच्छुक छात्रों को इनोवेटिव कॉन्सेप्ट्स और टेक्निक्स में एडवांस ट्रेनिंग प्राप्त करने में मदद करेगी, जिससे उन्हें भारत के टेकएड के भीतर कटिंग-एज टेक्नोलॉजी का पता लगाने के लिए प्रेरणा मिलेगी।
मेन्टरकार्ट, कौशल और रोजगार के पूरे ईकोसिस्टम को एक साथ लाने के लिए एक टेक प्लेटफॉर्म बनाने का दावा करता है, जहां इन्डस्ट्री के युवाओं को रोजगार के लिए तैयार और सक्षम बनाने में योगदान देने वाले सभी स्टेकहोल्डर्स भाग लेते हैं। इस ईकोसिस्टम में टेक मार्केट के लिए स्किल्ड वर्कफोर्स की मजबूत आपूर्ति बनाने के लिए मेन्टर्स, कन्टेन्ट क्रिएटर्स, यूनिवर्सिटी / कॉलेज, जॉब पोर्टल, प्लेसमेंट कंपनियां, टियर 2/3 शहरों के साझेदारों के साथ-साथ एनएसडीसी जैसी सरकारी एजेंसियां शामिल हैं।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!