औद्योगिक क्षेत्रों में आधारभूत सुविधाएं दुरूस्त रखी जाएं -डाॅ. गुप्ता

बैठक में विकास कार्यों की दी गई जानकारी
बीकानेर, 14 जून। जिला कलक्टर डाॅ. एन. के. गुप्ता ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्रों में पानी, बिजली, सड़क, सफाई आदि से सम्बन्धित व्यस्थाएं दुरूस्त रखनी सुनिश्चित की जाएं।
जिला कलक्टर ने गुरूवार को कलक्ट्रेट सभागार में जिला औद्योगिक समिति की बैठक में यह निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि रीको औद्योगिक क्षेत्रा में रीको की अनुमति के बिना लगे मोबाईल टावर का अनापत्ति प्रमाण पत्रा नगर निगम द्वारा विड्रो कर लिया गया है व टावर को 7 दिन में हटाने का नोटिस दिया गया है। रीको के वरिष्ठ क्षेत्राीय प्रबंधक ने बताया कि खारा औद्योगिक क्षेत्रा में प्राथमिक चिकित्सालय के लिए 1500 वर्ग मीटर का भू-खण्ड नियोजित कर दिया गया है। नापासर औद्योगिक क्षेत्रा में 8 व्यावसायिक दुकानों की नीलामी प्रक्रिया ई-आॅक्शन के माध्यम से करवाई गई, जिसके तहत 2 दुकानें नीलाम र्हुइं व 6 दुकानों हेतु दोबारा नीलामी करवाई जाएगी। रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्रा में 202 स्ट्रीट लाईटों में से 182 चालू हैं व शेष की मरम्मत करवाई जा रही है। खारा ग्रोथ सेंटर सेंटर उद्योग संघ द्वारा बताया गया कि इसी माह में डंपिंग यार्ड के लिए एसपीवी गठित कर दी जाएगी।
बैठक के दौरान बीकेईएसएल के प्रतिनिधि ने बताया कि रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्रा की मुख्य रोड पर औद्योगिक इकाईयों के ऊपर से जा रही 33 हजार केवीए की विद्युत लाइन हटा ली गई है। जिला कलक्टर ने सड़क के बीच आ रहे विद्युत पोल भी सर्वे कर हटाने के निर्देश दिए। बीकेईएसएल के प्रतिनिधि ने बताया कि रीको औद्योगिक क्षेत्रा में औद्योगिक इकाईयों के विद्युत बिलों में अरबन सेस हटा दिया गया है।
बैठक में बताया गया कि राज्य प्रदूषण निवारण व नियंत्राण मण्डल के तहत सीटीई के 8 व सीटीओ के 25 प्रकरण लम्बित हैं। जिला कलक्टर ने इनके शीघ्र निस्तारण के निर्देश देते हुए, गत एक वर्ष की सीटीओ माॅनिटरिंग रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने सिने मैजिक के सामने स्थित क्षतिग्रस्त सड़क की मरम्मत करवाने के निर्देश न्यास अधिकारियों को दिए। बीछवाल औद्योगिक क्षेत्रा में सड़क के दोनों ओर खड़े ट्रकों से हो रही परेशानी से अवगत करवाया गया, जिस पर जिला कलक्टर ने आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए।
बैठक में जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक आर.के. सेठिया, रीको के वरिष्ठ क्षेत्राीय प्रबंधक एस. सी. गर्ग, डी.पी. पच्चीसिया, कन्हैयालाल बोथरा, शांतिलाल बोथरा, महेश कोठारी, विनोद गोयल, कमल बोथरा, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक एन. के. गौड सहित विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।
——
एमजेएसए तृतीय चरण की प्रगति समीक्षा बैठक आयोजित
बीकानेर, 14 जून। जिला कलक्टर डाॅ. एन के गुप्ता की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान के तृतीय चरण की प्रगति समीक्षा बैठक आयोजित की गई।
जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि एमजेएसए तृतीय चरण के कार्य 30 जून तक पूर्ण कर लिए जाएं। जो कार्य अपरिहार्य कारणों से पूरे होने संभव नहीं हैं, उनके स्थान पर तत्काल नए कार्य स्वीकृत करवाकर, आवश्यकतानुसार टीम लगाकर इन्हें पूर्ण किया जाए। उन्होंने कहा कि लापरवाह अधिकारियों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। आईइसी गतिविधियों की जानकारी लेते हुए उन्होंने निर्देश दिए कि इसकी तथ्यात्मक रिपोर्ट शुक्रवार तक प्रस्तुत की जाए।
बैठक में बताया गया कि वन विभाग द्वारा तृतीय चरण में 9 हजार 350 पौधे लगाए जाएंगे, इसके लिए पौधे चिन्ह्ति कर लिए गए हैं व खड्डे भी तैयार कर लिए गए हैं। बरसात होते ही पौधारोपण कर दिया जाएगा। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि एमजेएसए प्रथम व द्वितीय चरण के तहत खराब हुए पौधों के स्थान पर बारिश के दौरान नए पौधे लगाए जाएं। उन्होंने कहा कि लाभार्थियों को जैतून के भी पौधे उपलब्ध करवाए जाएं। उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी, तहसीलदार, रात्रि चैपाल के माध्यम से एमजेएसए के सम्बन्ध में आमजन को अवगत करवाएं।
जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजीत सिंह राजावत ने बताया कि एमजेएसए तृतीय चरण में 4 हजार 712 कार्य चिन्ह्ति किए गए थे, जिनमें से 4 हजार 328 कार्य प्रारंभ करवाकर 2 हजार 208 कार्य पूर्ण करवा दिए गए हैं।
बैठक में जलग्रहण के अधीक्षण अभियंता भागीरथ बिश्नोई, जिला परिषद की अधीक्षण अभियंता संगीता सोलंकी, अधिशाषी अभियंता यशपाल पूनिया व सुरेश खत्राी, पीएचईडी के अधीक्षण अभियंता दीपक बंसल सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।
——-
मनरेगा, प्रधानमंत्राी आवास योजना प्रगति समीक्षा बैठकें आयोजित
बीकानेर, 14 जून। जिला कलक्टर डाॅ. एन के गुप्ता की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में मनरेगा, प्रधानमंत्राी आवास योजना की प्रगति समीक्षा बैठकें आयोजित की र्गइं।
बैठक में बताया गया कि मनरेगा के तहत अब तक 3 लाख 1 हजार 438 जाॅब कार्ड जारी किए गए हैं। चालू पखवाड़े में 1 हजार 798 कार्यों पर 18 हजार 674 श्रमिक कार्यरत हैं। वर्ष 2017-18 में 1 लाख 48 हजार 308 परिवारों को रोजगार उपलब्ध करवाया गया व 1.61 लाख मानव दिवस सृजित किए गए।
प्रधानमंत्राी आवास योजना के तहत वर्ष 2016-17 में 4 हजार 948 आवास स्वीकृत किए गए, जिनमें से 4 हजार 262 एफटीओ वैरीफाई तृतीय किस्त प्रदान की गई है। वर्ष 2017-18 में 9 हजार 16 आवास स्वीकृत किए गए, जिनमें से 6 हजार 403 एफटीओ वैरीफाई तृतीय किस्त दी गई। वर्ष 2018-19 के तहत अब तक 3 हजार 115 आवास स्वीकृत किए गए हैं। सम्पर्क पोर्टल पर 900 प्रकरण लम्बित हैं, जिनमें जिला परिषद स्तर पर 310 व विकास अधिकारी स्तर पर 590 प्रकरण लम्बित हैं। जिला कलक्टर ने प्रकरणों के समयबद्ध निस्तारण के निर्देश दिए।
बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजीत सिंह राजावत सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment