स्पष्टवादी व्यक्ति थे पृथ्वीराज पींथल

बीकानेर। बीकानेर महाराजा रायसिंह के अनुज पृथ्वीराज पींथल की 469 वीं जयंती क्षत्रिय सभा की ओर से मनाई गई। इस मौके पर क्षत्रिय समाज,रावणा राजपूत समाज,चारण समाज व राजपुरोहित समाज के गणमान्यजनों ने पृथ्वीराज के तेलचित्र पर पुष्पाजंलि दी। मुख्य अतिथि ब्रिगेडियर जगमाल सिंह ने पींथल के जीवन वृत पर दोहों व कविताओं के माध्यम से प्रकाश डालते हुए कहा कि वे वीर रस के अच्छे कवि थे और मेवाड़ की स्वतंत्रता तथा राजपूतों की मर्यादा की रक्षा के लिये सतत संघर्ष करने वाले महाराणा प्रताप के अनन्य समर्थक और प्रशंसक थे। उन्होंने कहा कि डिंगल भाषा के कवियों में पृथ्वीराज का स्थान काफी उच्च है, इनके प्रमुख ग्रंथ है वेलि क्रिसन रूखमणी री, दसम भागवतरा दूहा, गंगा लहरी, बसदेवराउत, दसरथरावउत, कल्ला रायमलोत री कुंडलियाँ आदि ने साहित्य के क्षेत्र में अनूठी छाप छोड़ी। सिंह ने कहा कि पृथ्वीराज पींथल कवि होने के साथ साथ ज्योतिष,पर्यावरणविद् और भविष्यदृष्टा थे। उन्होंने अपनी मृत्यु के बारे में भी अकबर को बता दिया था। दोहे रूप में लिखे उनके महाराजा को पत्र ने सबसे ज्यादा प्रसिद्वि दिलाई। इतिहासकार नारायण सिंह ने बताया कि वे इतने स्पष्टवादी थे कि वे बादशाह अकबर व बड़े भाई रायसिंह से भी सत्य कहने से नहीं चूकते थे। मुख्य रूप से इस समारोह में जगमाल सिंह पायली,कानसिंह बोघेरा,महावीर सिंह तंवर,डॉ नंदलाल सिंह महरौली,हींगलाज दान चारण,युधिष्ठिर सिंह भाटी,कुलदीप सिंह महरौली,कर्नल राजवी सुरेन्द्र सिंह,चन्द्रसिंह उदासर,पूर्णसिंह डाबड़ी,ईश्वर सिंह चनाणा सहित बड़ी संख्या में सजातिय लोग उपस्थित रहे। क्षत्रिय सभा अध्यक्ष बजरंग सिंह रॉयल ने आगुन्तकों का स्वागत किया। संचालन प्रदीप सिंह चौहान ने किया।

राष्ट्रीय साईकिल पोलो प्रतियोगिता 28 नवम्बर से
बीकानेर। 16 वीं राष्ट्रीय स्तरीय सब जूनियर (गल्र्स) तथा 20 वीं सीनियर (महिला) की साईकिल पोलो प्रतियोगिता 28 नवम्बर से होगा। आयोजन सचिव देवेन्द्र सिंह ने बताया कि बीकानेर में पहली बार आयोज्य यह प्रतियोगिता दिल्ली पब्लिक स्कूल में होगी। जिसका फ ाइनल मुकाबला 2 दिसम्बर को होगा। सिंह ने बताया कि प्रतियोगिता में राजस्थान सहित 16 राज्यों के तीन सौ खिलाड़ी अपना दमखम दिखायेंगे। पांच दिवसीय इस प्रतियोगिता में प्रतिदिन 8 से 10 मैच खेलें जायेंगे। इसके लिये दिल्ली पब्लिक स्कूल में 100 गुणा 150 का मैदान तैयार किया गया है। सिंह ने बताया कि प्रतियोगिता के उद्घाटन अवसर पर साईकिल पोलो फैडरेशन के संरक्षक महाराजा गजसिंह तथा अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह डूडलोद का सानिध्य रहेगा। खिलाडिय़ों को विश्नोई धर्मशाला में ठहराया जायेगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!