केंद्रीयकृत रसोईघर से 165 स्कूलों में बच्चों को मिलेगा मिड-डे-मील

बीकानेर। पूगल रोड स्थित केन्द्रीयकृत रसोईघर का उद्घाटन 4 फरवरी को किया जाएगा। इस कार्यक्रम के अतिथि ऊर्जा मंत्री बी.डी. कल्ला, उच्च शिक्षा मंत्री भंवरसिंह भाटी व शिक्षा मंत्री गोविन्दसिंह डोटासरा होंगे। इस रसोईघर के माध्यम से स्कूलों में मिड-डे-मिलपहुंचाया जाएगा। इसका जिम्मा अक्षय पात्र फाउंडेशन को दिया गया है। लालगढ़ पैलेस परिसर स्थित होटल सागर में रविवार को आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान फाउंडेशन के रघुपति दास ने बताया कि उन्हें बीकानेर के 165 स्कूलों के 20 हजार बच्चों को दोपहर का भोजन पहुंचाने की अनुमति मिली है। उन्होंने बताया कि हम गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए पहले दिन दो घंटे में 10हजार बच्चों को खाना पहुंचाएंगे। इसके लिए 13 रूट बनेंगे। जिस पहले दिन 6 गाडिय़ां और दो सप्ताह के अंदर 13 से 14 गाडिय़ां यह काम करेगी। इस खाने को बनाने में 50 लोगों का सहयोग रहेगा। खाना बनाने वाले व्यक्तियों के फूड सेफ्टी एक्ट के तहत साल में दो बार हेल्थ चैकअप किया जाएगा। रघुपति दास ने बताया कि अक्षय पात्र फाउंडेशन को चांडक ग्रुप संचालित कर रहा है। उन्होंने खाने के मैन्यु को लेकर बताया कि राज्य सरकार ने छह दिन का मैन्यू दिया है। इसमें एक दिन मीठा व एक दिन फ्रूट्स देना अनिवार्य किया है। हमें भोजन की पोष्टिकता के मद्देनजर प्रतिदिन 12 ग्राम प्रोटीन व 450 कैलोरी के भोजन के मापदण्ड की पालना करनी हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!