नवलराय बच्चाणी को श्रद्धांजलि

बीकानेर 25 मई 2019 । भारतीय सिन्धु सभा की ओर से राष्ट्रीय उपाध्यक्ष 93 वर्षीय नवलराय बच्चाणी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई । व्यास कॉलोनी में संगठन संभाग प्रभारी के निवास पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में पदाधिकारियों ने बच्चाणी के असामयिक निधन को भारतीय सिन्धु सभा और सिंधी भाषा साहित्य क्षेत्र के लिए अपूरणीय क्षति बताया । संभाग संरक्षक श्याम आहूजा ने कहा कि दादा बच्चाणी अपने अंतिम समय तक सक्रिय रहे और इन दिनों राज्य भर में आयोजित सिंधी बाल संस्कार शिविरों के चलते बच्चाणी ने अजमेर में विद्यार्थियों को प्रेरणा देने के साथ विद्यालय के स्टाफगण को ऐसे शिविरों को सफल बनाने का मार्गदर्शन दिया।
सिंधी सेंट्रल पंचायत अध्यक्ष कमलेश सत्यानी, सभा पदाधिकारी हासानंद मंघवानी देवीचंद खत्री अशोक वासवानी मोहन थानवी अनिल डेम्बला गणेश सदारंगानी मानसिंह मामनानी किशन सदारंगानी टीकम पारवानी आरके बोस राजेश खेशकवानी ने कहा कि बच्चाणी सदैव जरूरतमंद की सेवा में तत्पर रहे। मोहन थानवी ने कहा कि बच्चाणी वैद्य के रूप में भी ख्यातनाम थे, उन्होंने हिंदी सिंधी में साहित्य सृजन के अलावा घरेलू इलाज संबंधी पुस्तकें भी लिखी थी। हेमंत गोरवानी अशोक गोरवानी केशव खत्री तेजप्रकाश आदि सिन्धु सभा के सदस्यों – पदाधिकारियों ने बच्चाणी के बीकानेर प्रवासों की यादें ताजा कराते कहा कि उन्होंने नियमित कार्यकर्ताओं को सक्रियता सेप्रेरणा देने का काम किया जिसे आने वाली पीढ़ियों तक भुलाया न जा सकेगा। सभा में राष्ट्रीय मंत्री महेन्द्र कुमार तीर्थाणी और डॉ प्रदीप गेहानी के शोक संदेश का वाचन विवेक आहूजा द्वारा किया गया जिसमें उन्होंने श्री बच्चाणी के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुये कहा कि श्री बचाणी ने संगठन को देशभर में नई उंचाईयां प्रदान की। सभा के बाद बीकानेर से केशव खत्री के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल बच्चाणी के परिजनों को सांत्वना देने अजमेर रवाना हुआ।
– मोहन थानवी
मीडिया प्रभारी
भारतीय सिंधु सभा महानगर बीकानेर
9460001255

Leave a Comment

error: Content is protected !!