महिलाओं ने भरी हुंकार, दिनभर धूप में बैठी रही महिलाएं

फिरोज़ खान
सीसवाली 12 अगस्त । 22 जुलाई को कस्बे के सर्राफा व्यापारी ब्रजेश सोनी की नृशंस हत्या कर दी गयी थी । इस हत्या के आरोपियों का अभी तक भी पता नही चल पाया है । इसको लेकर महिलाओं का आक्रोश फुट पड़ा । और हत्याकांड के हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर सोमवार को सैकड़ो महिलाओं ने प्रताप चौक बस स्टैंड पर चक्काजाम कर प्रदर्शन किया । महिलाएं तय समय पर चक्काजाम स्थल पर पहुंच गयी थी । महिलाओं की मांग थी कि ज्ञापन जिला कलक्टर बारां को ही देंगे । मोके पर तहसीलदार गजानंद जांगिड़, एसटी सेल डिप्टी सोजीलाल बारां, थानाधिकारी नरपतदान सिंह ने महिलाओं को अब तक कि जा रही कार्यवाही से अवगत कराया और उनको विश्वास दिलाते हुए कहा कि पुलिस टीमें लगी हुई है और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जावेगा । इसके लिए पुलिस दिन रात जुटी हुई है । मगर उसके बाद भी महिलाएं अड़ अड़ गयी और जिला कलक्टर बारां की मांग करने लगी । चक्काजाम स्थल पर पहंचे पूर्व वरिष्ठ नागरिक बोर्ड के चैयरमेन प्रेमनारायण गालव, जिला प्रमुख नंदलाल सुमन ने चक्काजाम स्थल पर नारी शक्ति को सम्बोधित किया । उसके बाद महिलाओं ने मांग रखी कि जिला कलक्टर को ही ज्ञापन देंगे । महिलाओं की मांग से प्रेमनारायण गालव ने जिला कलक्टर बारां से फोन पर वार्ता की तो जिला कलक्टर ने आने से मना कर दिया उसके बाद उन्होंने कहा कि एडीएम बारां को भिजवा दे मगर उनके लिए मना करने के बाद भाजपा के कार्यकर्ता उग्र हो गए और कस्बा अनिश्चितकालीन बन्द करने की चेतावनी दे डाली और कस्बे को बंद करवाने की घोषणा कर दी । कई व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद भी कर दिए थे । मौके पर पहुंचे उप उप जिला कलक्टर आशीष कुमार श्रीवास्तव मांगरोल ने भी महिलाओं को समझाने का प्रयास किया पर महिलाओं की एक ही मांग थी कि जिला कलक्टर को ही ज्ञापन देंगे । उसके बाद महिलाओं ने जिला कलक्टर के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की और उग्र प्रदर्शन करने की चेतावनी दी । मोके पर बद्रीलाल मेघवाल बारां भाजपा मंडल अध्यक्ष दिनेश सोनी, सतीश नेनिवाल, व्यापरमहासंघ अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह हाड़ा, लक्ष्मण सिंह हाड़ा, रवि गर्ग, मोरध्वज मीणा, मनोज सोनी, मोरपाल मीणा, एस एन सोनी, बनवारी सोनी, पुनीत नागर सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे । उसके बाद मौके पर अतिरिक्त जिला कलक्टर सुदर्शन सिंह तोमर व अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक विजय स्वर्णकार बारां ने मौके पर पहुंचकर महिलाओं को अस्वाशन दिया और हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया । ए एसपी ने अभी तक कि पुलिस कार्यवाही से अवगत भी कराया और उन्होंने पुलिस का सहयोग करने की अपील की । मृतक की बेटी ने भावुक होते हुये अपने पिता के कातिलों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग रखी । महिलाओं के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री के नाम अतिरिक्त जिला कलक्टर बारां को ज्ञापन दिया । उसके बाद ही महिलाएं चक्काजाम स्थल से हटी । प्रतिनिधि मंडल में राधा नेनीवाल, ममता चोपदार, सुधा शर्मा, प्रेमदुलारी नामा, कमलेश सोनी, ज्योति नागर, तारा, लक्ष्मी नामा, ललिता झालानी, तेजकंवर, ब्रजेश सोनी, सुनीता सोनी आदि थी ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!