जिला कलक्टर ने सड़क सुरक्षा रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया

अजमेर, 04 फरवरी। जिला प्रशासन एवं परिवहन विभाग द्वारा 30वां राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह सोमवार से प्रारम्भ हुआ। सप्ताह के दौरान अनेक कार्यक्रमों का आयोजन होगा। सप्ताह की थीम ‘सड़क सुरक्षा – जीवन रक्षा’ रखा गया है।
सड़क सुरक्षा सप्ताह के प्रथम दिन सूचना केन्द्र से जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा द्वारा सड़क सुरक्षा रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया। यह रैली सूचना केन्द्र से स्वामी कॉम्पलेक्स से कचहरी रोड, गांधी भवन चौराहा, आगरा गेट, फव्वारा चौराहा, बजरंगगढ़, जेएलएन होती हुई सूचना केन्द्र आकर सम्पन्न हुई। रैली में मोटसाईकिल, टैम्पो, कार सहित एक विशेष रथ भी बनाया गया जो नुक्कड़ नाटक के माध्यम से परिवहन नियमों की जानकारी दे रहा था। रैली में स्कूली बच्चे भी शामिल थे।
जिला कलक्टर ने इस मौके पर कहा कि लोगों को यातायात नियमों की जानकारी देने एवं जागरूक करने के उद्देश्य से यह सप्ताह मनाया जाता है। इसमें विविध कार्यक्रमों का आयोजन कर लोगों को परिवहन नियमों की जानकारी दी जाएगी ताकि वे उनकी पालना कर सके।
प्रादेशिक परिवहन अधिकारी कुसुम राठौड़ ने बताया कि सड़क सुरक्षासप्ताह के दौरान रिफ्लेक्टिव टेप लगाना, स्लोगन एवं बैनर्स लगवाना,प्रतिदिन दो विद्यालयों में सड़क सुरक्षा सम्बन्धी व्याख्यान एवं सामग्री वितरण, प्रतिदिन दो विद्यालयों के विधार्थियों के ट्रेफिक पार्क (अशोक उद्यान) एवं प्रादेशिक परिवहन कार्यालय स्थित प्रदर्शनी का अवलोकन करवायी जाएगी।
उन्होंने बताया कि सप्ताह के दौरान ही रोड ऑनिंग एजेन्सीज (अजमेर विकास प्राधिकरण, नगर निगम, सार्वजनिक निर्माण विभाग, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकारण, आरएसआरडीसी) द्वारा फुटपाथों एवं सड़क के शॉल्डर पर से पेड़ पौधों को हटवाया जावें तथा मिडियन के पेडो को समुचित करने, चौराहों व तिराहों पर स्पीड कामिंग मेजर्स लगाने, स्कूल, हॉस्पीटल, निर्माणाधीन स्थल, सड़कों पर अधिसूचित स्पीड लिमिट के साइन बोर्ड लगाने, सड़कों पर आवश्यक साइन बोर्ड लगवाना व रोड मार्किंग करवाने, विभाग के अभियंता, संबंधित थानाधिकारी व संबंधित जिले का सड़क सुरक्षा प्रभारी द्वारा अपने अधीनस्थ क्षेत्र के ब्लैक स्पॉट का संयुक्त निरीक्षण करवाया जाकर तथा शॉर्ट टर्म मेजर्स अपनाए जाकर दुर्घटना संभावना को नगण्य करने का प्रयास किया जाएगा।
सोमवार को ही जिला पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप द्वारा प्रादेशिक परिवहन कार्यालय में सड़क सुरक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन किया गया। इस दौरान विभिन्न स्कूलों के छात्र-छात्राओं सहित यातायात पुलिस एवं परिवहन विभाग के समस्त अधिकारी/कर्मचारी, अजयमेरू सडक सुरक्षा सोसायटी के अध्यक्ष श्री नवीन सोगानी एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे। उक्त सड़क सुरक्षा प्रदर्शनी पूरे सप्ताह आमजन हेतु खुली रहेगी तथा सप्ताह के दौरान विभिन्न स्कूलों के छात्र-छात्राओं को प्रतिदिन दिखाई जायेगी। प्रादेशिक परिवहन कार्यालय, अजमेर परिसर, घूघरा गांव, भूणाबाय एवं बस स्टेण्ड पर नुक्कड नाटकों के माध्यम से सडक सुरक्षा के प्रति आमजन को जागरूक भी किया गया।

साप्ताहिक समीक्षा बैठक सम्पन्न
अजमेर, 04 फरवरी। समस्त विभागों की साप्ताहिक समन्वय समीक्षा बैठक सोमवार को जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। उन्होंने समस्त विभागों को समन्वय से कार्य करने एवं निर्धारित लक्ष्यों को समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए।
बैठक में चिकित्सा विभाग को मौसमी बीमारियों से निपटने तथा चिकित्सालयों में समस्त दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। उन्होंंने स्वाईन फ्लू पॉजीटीव पाए गए मरीजों का फोलोअप करते रहने के भी निर्देश दिए। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग को पुष्कर के प्रवेश द्वार को चौड़ा करने के संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि इस संबंध में नगर पालिका से सहमति मिल गई है। बैठक में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग को कंटीजेंसी प्लान के तहत उपखण्ड अधिकारियों से रिपोर्ट प्राप्त हो गई है जिस पर तत्काल कार्यवाही करें। बैठक में बताया गया कि गत एक सप्ताह के दौरान 916 लिकेज ठीक किए गए। जबकि 45 टंकियों की सफाई भी करवायी गई।
उन्होंने लोिंगया क्षेत्र में पार्किंग के लिए आयुर्वेद विभाग को एनओसी उपलब्ध कराने के लिए कहा। ग्रामीण विकास की योजनाओं में नरेगा के तहत श्रमिकों की संख्या बढ़ाने के निर्देश भी दिए गए। समस्त कार्यकारी एजेंसियों को भी अपने -अपने विभागीय कार्यों में नरेगा के तहत अधिक से अधिक श्रमिकों को नियोजित करने के लिए निर्देशित किया गया।
जिला कलक्टर ने विद्युत विभाग को भी कृषि कनेक्शन निर्धारित समय पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। साथ ही ब्रह्मपुरी क्षेत्र में बिजली के पोल शिफ्टिंग कार्य में प्रगति लाने तथा अंडरग्राउंड केबल वर्क में गति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने राजस्थान सम्पर्क पर दर्ज पुराने प्रकरणों का शीघ्र निस्तारण करने के भी निर्देश दिए।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अबु सूफियान चौहान, महिला एवं बाल विकास की उप निदेशक डॉ. अनुपमा टेलर, जिला रसद अधिकारी श्री संजय माथुर, कोषाधिकारी श्री राजकिशोर मीना सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

जिला स्तरीय पोषाहार समिति की बैठक सम्पन्न
अजमेर, 04 फरवरी। जिला स्तरीय पोषाहार समिति की बैठक सोमवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अबु सूफियान चौहान की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई।
बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग की उप निदेशक ने बताया कि जिले में संचालित 1959 आंगनबाड़ी केन्द्रों के लाभार्थियों को विकेन्द्रीकृत व्यवस्था के अन्तर्गत पूरक पोषाहार एक हजार 842 स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से आंगनबाड़ी केन्द्रों पर नियमित वितरण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री अमृत आहार योजना में 3 से 6 वर्ष के बच्चों तथा धात्री एवं गर्भवती माताओं और किशोरी बालिकाओं को स्किम्ड मिल्क पाउडर प्रदान किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि 6 वर्ष तक के बालक-बालिकाओं को प्ररम्भिक बाल्यावस्था शिक्षा प्रदान की जा रही है। दैनिक समय सारिणी के अनुसार बच्चों के बहुआयामी विकास, शारीरिक, भाषायी, रचनात्मक, बोद्धिक, सामाजिक एवं भावनात्मक विकास के लिए सत्र निर्धारित कर बच्चों को तरंग, उमंग एवं किलकारी पुस्तिका के माध्यम से आनन्दायी शिक्षा प्रदान की जा रही है।
उन्होंने बताया कि महिला अधिकारिता विभाग द्वारा स्वयं सहायता समूहों को सुदृढ़ करने के लिए अमृता हाट का आयोजन किया जाएगा। जिले में स्वयं सहायता समूहों को लगभग 9 लाख का ऋण उपलब्ध करवाया गया। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अन्तर्गत जनवरी माह तक 26 हजार से अधिक पात्र महिलाओं का पंजीकरण करने के पश्चात लगभग 22 हजार लाभार्थियों को 7 करोड़ 60 लाख के लगभग राशि ऑनलाइन वितरित की गई है।
बैठक में महिला एवं बाल विकास की उप निदेशक डॉ. अनुपमा टेलर, जिला रसद अधिकारी श्री संजय माथुर, प्रोटोकॉल अधिकारी श्री जगदीश चंद हेड़ा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.के.सोनी, कोषाधिकारी श्री राजकिशोर मीना सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!