सूचना केन्द्र में परिन्डे बांधे

अजमेर, 11 जून। चूरिया मूरिया शिक्षा, पर्यावरण एवं स्वास्थ्य सेवा संस्था की ओर से भीषण गर्मी में पक्षियों का जीवन बचाने के लिए शहर में विभिन्न स्थलों पर परिन्डे बांधे जा रहे है।
संस्था सचिव हेमलता अगनानी ने बताया कि मंगलवार को सूचना केन्द्र परिसर में लगे पेड़ों पर परिन्डे बांधकर पानी डाला गया। सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के उपनिदेशक श्री महेश चन्द्र शर्मा सहित कर्मचारियों श्री लक्ष्मण दास पोपटानी, श्री राम किशोर, श्रीरामस्वरूप, श्रीकुणाल राजोरिया, संस्था के सदस्य रमेश अगनानी, अशोक बजाज आदि उपस्थित रहकर परिन्डे बांधे। श्री लक्ष्मण दास पोपटानी ने रोजाना पानी देने का संकल्प लिया।

पीसीपीएनडीटी की बैठक 18 को
अजमेर, 11 जून। गर्भधारण पूर्व एवं प्रसव पूर्व निदान तकनीक (लिंग चयन प्रतिषेध) अधिनियम 1994 के तहत गठित उपखण्ड स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक 18 जून को प्रातः 11 बजे कार्यालय संयुक्त निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाए जोन अजमेर जवाहर रंगमंच के पास आयोजित की जाएगी। संयुक्त निदेशक चिकित्सा ने यह जानकारी दी।

ई मित्र कियोस्क को किया बंद
अजमेर, 11 जून। अजयमेरू ई मित्र सोसायटी द्वारा विभागीय कार्यों में सहयोग नहीं करने, राजकीय आदेशों की अवेहलना करने, तय राशि से अधिक राशि वसूलने तथा रेट लिस्ट एवं बैनर नहीं लगाने के कारण तीन ई मित्र कियोस्कों का ऑनलाइन बन्द किया गया है।
सोसायटी के अतिरिक्त सचिव ने बताया कि हेमन्त सुनारीवाल के ई मित्र कियोस्क को ऑनलाइन बन्द कर दिया गया है।

केकड़ी में मिलेगी हीमोडायलिसिस की सुविधा
अजमेर, 11 जून। केकड़ी के उप जिला चिकित्सालय में शीघ्र ही हिमोडायलिसिस की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी । इस सुविधा के प्रारंभ होने से क्रॉनिक किडनी फेलियर के मरीजों को लाभ मिलेगा। इससे क्षेत्र एवं आसपास के हजारों मरीजों को राहत मिलेगी।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने निदेशक जनस्वास्थ्य को निर्देश प्रदान कर यथाशीघ्र केकड़ी के उपजिला अस्पताल में यह सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। उनके निर्देशों की अनुपालना में आज निदेशक जनस्वास्थ्य ने केकड़ी में हिमोडायलिसिस मशीन लगाने की स्वीकृति प्रदान कर दी है।

फार्म पौण्ड निर्माण के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू
अजमेर, 11 जून। राज्य सरकार ने किसानों से फार्म पौण्ड निर्माण के आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कृषि आयुक्तालय द्वारा इसके लिए दिशा निर्देश जारी किए गए है। किसानों को आवेदन करने के लिये नये दिशा-निर्देश का इन्तजार नहीं करना पड़ेगा।
कृषि उपनिदेशक श्री वी.के.शर्मा ने बताया कि फॉर्म पोण्ड आवेदन के लिए कृषकों के नाम एक स्थान पर न्यूनतम कृषि योग्य जोत भूमि आधा हैक्टेयर का स्वामित्व होना आवश्यक है। अनुदान के लिए प्रस्तुत जमाबंदी की नकल छह माह से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए। योजना में कृषकों को एक बार ही लाभान्वित करने का प्रावधान है। कृषक नजदीकी ई मित्र केन्द्र पर जाकर ऑन लाईन आवेदन कर सकता हैं । कृषक को दस्तावेजो के रूप में जमाबंदी की नकल, ट्रेस नक्शा, पासपोर्ट साईज फोटो, आधार कार्ड, भामाशाह कार्ड, कृषक श्रेणी प्रमाण पत्र, फव्वारा/ड्रिप का प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक ले जाना अनिवार्य है।
उन्होंने बताया कि गत वर्ष के दिशा-निर्देशानुसार ही फार्म पौण्ड निर्माण पूर्व की सभी औपचारिकताएं पूरी की जानी है। गत वर्ष फार्म पौण्ड निर्माण पर अधिकतम 63000 हजार रूपए अनुदान राशि देय थी। इच्छुक किसान अपने क्षेत्र के कृषि पर्यवेक्षक या सहायक कृषि अधिकारी से चर्चा कर नजदीकी ई-मित्र कियोस्क पर जाकर ऑन-लाईन आवेदन कर सकता है। पात्र कृषकों को संबंधित सहायक निदेशक कृषि (विस्तार) से फार्म पौण्ड निर्माण की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की जायेगी। इसके उपरान्त ही कृषक नियमानुसार फार्म पौण्ड निर्माण करायेंगे। गत वर्ष जिले में कुल 664 फार्म पौण्ड का निर्माण हुआ था।
उन्होंने बताया कि खेत में वर्षा जल के बहाव क्षेत्र में अथवा खेत के निचले हिस्से में होना चाहिए।
फार्म पौण्ड हेतु काली व भारी संरचना मिट्टी वाली भूमि सर्वाेत्तम होती हैं, क्योकि इसमें पानी का रिसाव कम होता है। फार्म पौण्ड में ढलान 1ः1 प्रतिशत का तथा निकलने वाली मिट्टी 1-1 मीटर का गेप देकर मेडबंदी करनी चाहिए। वर्षा जल को एकत्रित कर सिंचाई के कार्य में लेने हेतु कृषकों के लिए फार्म पौण्ड निर्माण कार्य प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत कराया जाता है।
श्री शर्मा ने बताया कि यह फसल उत्पादन बढाने में प्रभावकारी एवं काफी कारगर हैं। वर्षा जल को फार्म पौण्ड में एकत्रित कर जीवन रक्षक फसल सिंचाई हेतु संरक्षित किया जाता हैं। फार्म पौण्ड का निर्माण कृषकों द्वारा उनकी निजी खातेदारी भूमि पर करवाया जाता हैं, इससे वर्षा का जल बहकर व्यर्थ नहीं जायेगा, खेत का पानी खेत में रहेगा। भूमि में जल स्तर बढेगा और पर्यावरण में भी सुधार होगा। फार्म पौण्ड निर्माण खेत में वर्षा जल को संरक्षित करने का सबसे सुलभ तरीका है। इससे उत्पादकता में वृद्धि होगी।

अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस 2019 ःःः राज्यस्तरीय कार्यक्रम अजमेर में होगा
अजमेर, 11 जून। अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस 2019 का राज्यस्तरीय कार्यक्रम इस बार अजमेर के पटेल मैदान अजमेर में आयोजित होगा। राज्य स्तरीय योग दिवस की पूर्व तैयारियों के संबंध में जिला कलक्टर श्री विश्व मोहन शर्मा की अध्यक्षता में 14 जून को दोपहर 12ः00 बजे जिला कलेक्ट्रेट सभागार में अजमेर के सभी विभागो के अधिकारियों की एक बैठक का आयोजन रखा गया है। उपनिदेशक आयुर्वेद विभाग डाफ. रमाशंकर पचौरी ने बताया कि आयोजित की जाने वाली बैठक में आवश्यक विचार विमर्श कर आगामी निर्णय लिया जायेगा।

गर्मी के भीषण प्रकोप के चलते पशु कल्याण हेतु दिशा निर्देश
अजमेर, 11 जून। गर्मी के भीषण प्रकोप के चलते ‘‘अहिंसा परमो धर्म‘‘ के सिद्धांत का अनुसरण करते हुए पशु कल्याण हेतु जिले की समस्त पशु चिकित्सा संस्थाओं को दिशा निर्देश जारी किये गये है।
पशु पालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. अजय अरोड़ा ने बताया कि भार ढोने वाले पशुओें से दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक भार ढोने का कार्य नहीं कराया जाये एवं उन्हें इस अवधि में विश्राम दिया जाए। इस हेतु विभागीय कर्मी अपने क्षेत्र के विद्यालयों, स्वयं सेवी संस्थाओं, जन प्रतिनिधिगण एवं गोष्ठियों के माध्यम से व्यापक प्रचार प्रसार करना सुनिश्चित करेंगे। संस्था प्रभारी अपने क्षेत्रों में पशुपालकों से सम्पर्क कर उन्हें तापघात से पशुओं की सुरक्षा हेतु जागरूक करेंगे। उन्होंने बताया कि पशुपालकों को पशुओं को छाया में रखने, दिन में चार-पांच बार पानी पिलाने एवं रात्रि में पशुओं पर जल छिड़काव करने की सलाह दी जायेगी। पशुपालकों को अपने पालतू पशुओं को प्रतिदिन 10-15 ग्राम लवण एवं सप्ताह में तीन दिवस 25 से 30 ग्राम मीठा सोडा उपलब्ध कराने बाबत् जागरूक करेंगे। तापघात से ग्रसित पशुआें का त्वरित उपचार सुनिश्चित करेंगे।
उन्होंने बताया कि चारे का पोष्टिक बनाकर पशुओं को खिलाने की विधि से पशुपालकों को अवगत कराया जायेगा वहीं किसी भी विषम परिस्थिति के प्रकाश में आने पर जिला मुख्यालय से अविलम्ब सम्पर्क करेंगेें। आवश्यकता पड़ने पर जिला मुख्यालय को सूचित करते हुए नजदीकी पशु चिकित्सा संस्था का सहयोग लेना सुनिश्चित करेंगे तथा ओषधालय में औषधियों एवं टीकों की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!