नेहरू जयंती के नाम पर शिक्षा का कांग्रेसीकरण -देवनानी

प्रो. वासुदेव देवनानी
अजमेर, 14 नवम्बर। विधायक एवं पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर नेहरू जयंती के नाम पर शिक्षा का कांग्रेसीकरण किये जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि राजस्थान शिक्षक कांग्रेस व राजीव गांधी स्टडी सर्किल नामक संगठन द्वारा नेहरू जयंती के अवसर पर जयपुर में आयोजित सम्मेलन में भाग लेने के लिए प्रदेश के महाविद्यालयी शिक्षकों को एकेडेमिक लीव स्वीकृत की गई है जो कि नियमविरूद्ध तो है ही साथ ही शासन की शक्तियों का दुरूपयोग भी है।
पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री देवनानी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत व तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री सुभाष गर्ग राजीव गांधी स्टडी सर्किल नामक संगठन के ट्रस्टी है। इस संगठन द्वारा नेहरू जयंती के अवसर पर जयपुर के बिडला आडिटोरियम में आयोजित सम्मेलन जो कि एक तरह का राजनैतिक कार्यक्रम होने के साथ ही शक्ति प्रदर्शन था जिसे मुख्यमंत्री व तकनीकी शिक्षा मंत्री द्वारा अपने आलाकमान को खुश करने के लिए आयोजित करवाया गया। कार्यक्रम में काॅलेज शिक्षकों को जबरदस्ती बुलाने के लिए अकादमिक अवकाश स्वीकृत किये गये जो कि नियमविरूद्ध है।
देवनानी ने कहा कि सरकार के इस निर्णय से बाल दिवस पर प्रदेश के महाविद्यालयों से शिक्षक गायब रहे तथा जयपुर के आस-पास के महाविद्यालयों में तो छुट्टी जैसा माहौल रहा। बाल दिवस के अवसर पर बालको के मौलिक अधिकारों का हनन किया गया । उन्होंने कहा कि बच्चों की पढाई से ज्यादा इस कार्यक्रम का उद्धेश्य मुख्यमंत्री गहलोत के सामने शक्ति प्रदर्शन करना रहा।
उन्होंने कहा कि काॅलेज शिक्षकों को अकादमिक अवकाश केवल शोध पत्र प्रस्तुत करने के लिए ही देय है। इस कार्यक्रम के लिए नियमविरूद्ध अकादमिक अवकाश जारी किये गये जिससे सैकड़ों शिक्षकों को सम्मेलन में लाया जा सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!