दृष्टिबाधित खिलाड़ियों को समाज की मुख्यधारा में जोड़ा जाए डॉ कृष्णानंद

अजमेर ! राष्ट्रीय संत डॉ कृष्णानंद जी ने कहा कि दृष्टि बाधित लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ा जाना चाहिए दृष्टिबाधित खिलाड़ी हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है ।
डॉ कृष्णानंद आज मेयो गर्ल्स कॉलेज के ग्राउंड में राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन फॉर द ब्लाइंड एवं नेत्रहीन सेवा संघ अजमेर के संयुक्त तत्वाधान में दृष्टिहीन क्रिकेट खिलाड़ियों के क्रिकेट प्रतियोगिता पारसमल चौधरी चैंपियन ट्रॉफी 2020 के समापन समारोह के अवसर पर मुख्य अतिथि की हैसियत से बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि दृष्टिहीन खिलाड़ी हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा दिखाते हैं, समाज द्वारा इन्हें प्रोत्साहन देने से से ही इनका विकास संभव है।
राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन फॉर ब्लाइंड के महासचिव इस्लाम अली ने बताया कि 20 फरवरी से 23 फरवरी तक चार दिवसीय प्रतियोगिता में राजस्थान गुजरात गोवा एवं मध्य प्रदेश की चार टीमें की टीमें भाग लिया। चैंपियन ट्रॉफी में गोवा के आशुतोष मैन ऑफ द सीरीज रहे वहीं घेवर रेबारी आशुतोष बाला जीना राम प्रदीप सिंह ओम प्रकाश मैन ऑफ द मैच रहे । उन्होंने बताया कि चैंपियनशिप ट्रॉफी के विजेता एवं उपविजेता को ट्राफी एवं सभी खिलाड़ियों को जवाहर फाउंडेशन द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान किए।
चैंपियनशिप के समापन समारोह के अवसर पर विशिष्ट अतिथि पूर्वांचल जन चेतना समिति के मैनेजिंग ट्रस्टी रजनीश वर्मा अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के महासचिव शिव कुमार बंसल अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी ओबीसी विभाग के संयोजक मामराज सेन सौरव यादव कर्नल गोविंद सिंह चुंडावत नवीन सोगानी थे।
चैंपियनशिप ट्राफी के फाईनल में गुजरात एवं गोवा की टीम के मध्य उद्घाटन मैच खेला गया। रोमांचक मैच में गुजरात चैंपियन ट्रॉफी विजेता रही विजेता गोवा टीम रही।
इस अवसर पर राजस्थान नेत्रहीन सेवा संघ अजमेर के अध्यक्ष निर्मल कुमार खंडेलवाल कृष्णपाल सिंह गोवर्धन बेरवा योगेंद्र सिंह शेखावत इस्लाम खान भरत अर्पण चौधरी संदीप कुमार त्रिवेदी आदि उपस्थित थे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!