आखिर कुंठित तिवाड़ी ने भाजपा का दामन छोड़ा

*भाजपा के वे कौनसे 15 विधायक हैं जो तिवाड़ी के साथ है
*भाजपा में मची खलबली, कांग्रेस को मिला मुद्दा*

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता घनश्याम तिवाड़ी ने आखिर आज पार्टी से इस्तीफा देकर बरसों पुराना नाता तोड़ दिया। तिवाड़ी पिछले कई सालों से वसुंधरा राजे की मनमानी व पार्टी में उनकी हिटलर शाही से कुंठित चल रहे थे। उन्होंने राजे के इस आचरण के बारे में पार्टी के शीर्ष नेताओं से कई बार शिकायत भी की लेकिन किसी नेता ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। आखिर आज वो घड़ी आ ही गई जब तिवाड़ी को हारकर ये कठोर फैसला लेना पड़ा हालांकि तिवाड़ी भाजपा से बिछुड़ने पर मन ही मन काफी दुःखी हैं उन्होंने आज प्रेस वार्ता के दौरान कहा भी है की भाजपा से अलग होते हुए उन्हें अच्छा महसूस नहीं हो रहा है। और होगा भी क्यों आखिर 45 साल से लगातार वे इस पार्टी से जुड़कर अपनी सेवाएं देते रहे हैं। वे पार्टी के उन बड़े नेताओं में से एक रहे हैं जिन्होंने पूरी ईमानदारी, निष्ठा, मेहनत व अपनी कुशल कार्यशैली से पार्टी को मजबूती प्रदान की है।
वे न तो किसी नेता के दबाव में आये और न ही वे किसी की मनमानी के आगे नतमस्तक हुए।
घनश्याम तिवाड़ी का विधानसभा चुनाव से पांच माह पहले अलग होना राजस्थान की राजनीति पर कितना असर डालेगा ये तो वक़्त ही बताएगा मगर ये तय है कि उनके इस कदम से पार्टी के कई असंतुष्ट नेताओं, विधायकों को जरूर सम्बल मिलेगा उधर कांग्रेस को भी एक मुद्दा मिल गया है जिसे वह विधानसभा चुनाव में अवश्य भुनायेगी।
71 वर्षीय राजस्थान के दिग्गज नेता घनश्याम तिवाड़ी ने भाजपा से इस्तीफा देने के बाद प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव में उनकी नई पार्टी भारत वाहिनी राज्य की सभी 200 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं उन्होंने कहा कि हनुमान बेनीवाल सहित भाजपा व कांग्रेस के कई असंतुष्ट नेता उनसे लगातार संपर्क में हैं जिनमें भाजपा के 15 विधायक भी शामिल है। तिवाड़ी के इस बयान पर भाजपा में खलबली मच गई है। पार्टी नेताओं के दिमाग मे बस यही बात चल रही है कि आखिर ये 15 विधायक कौनसे हैं जो तिवाड़ी के सम्पर्क में हैं। कहीं ये वो विधायक तो नहीं जिन्हें अगली बार टिकट न मिलने का खतरा हो। हो सकता है भाजपा से टिकट न मिलने की स्थिति में ये विधायक तिवाड़ी की भारत वाहिनी पार्टी से चुनाव लड़ने का ताना बाना बुन रहे हों। खैर जो भी हो पार्टी के दिग्गज नेता का पार्टी से यूं दामन छोड़ना नुकसान तो देकर जाएगा ही !
उल्लेखनीय है कि राजस्थान के दिग्गज नेता घनश्याम तिवाड़ी के राजनैतिक जीवन के 45 वर्ष पूरे हो गए वे अब तक भाजपा से 6 बार विधायक रह चुके है तथा भैरोसिंह शेखावत व वसुंधरा राजे की सरकार में मंत्री भी रह चुके है, पिछले तीन बार से लगातार सांगानेर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक हैं।
✍🏼 *@ तिलक माथुर*
*9251022331*

Leave a Comment