सकोरे वितरित

आज चलो आज कुछ अच्छा करते हैं ग्रुप के सदस्यों द्वारा रामनवमी के पावन
अवसर पर व्हाट्सएप ग्रुप के संदेश से इकट्ठे हुए उन बेजुबान पक्षियों के
लिए सकोरे निशुल्क वितरित किए गए… ग्रुप के कई सदस्यों ने मिलकर करीब
400 सकोरे इकट्ठे किए एवं लगातार प्रयास कर रहे हैं कि ज्यादा से ज्यादा
सकोरे जल्द इकट्ठे कर स्कूलों में भी वितरित किए जाएंगे आज बरईपुरा
चौराहा लोहंगी मोहल्ला मैं यह सकोरे घरों में खासकर उन बच्चों को वितरित
किए जो नियमित रूप से उसमें पानी भर कर रखेंगे… बच्चों के इस उत्साह को
देख कर ग्रुप ने उन सभी बच्चों को एक-एक चॉक्लेट भी उपहार स्वरूप दी आज
ग्रुप के सदस्यों ने सकोरे के साथ पक्षियों के दाने के पैकेट भी उन .
सकोरा के साथ वितरित किए…. ग्रुप लगातार गौरैया संरक्षण हेतु प्रयासरत
है इसी संदर्भ में आज उन सभी घर के निवासियों को गौरैया संरक्षण हेतु
घोसला लगाने के लिए भी प्रेरित किया गया.. कई रहवासियों ने घोसले की
उपलब्धि के बारे में पूछा ग्रुप के सदस्यों द्वारा गौरैया संरक्षण हेतु
तमाम जानकारियां उन्हें उपलब्ध कराई गई… ग्रुप लगातार पक्षियों के लिए
हर सप्ताह सकोरे वितरित करता रहेगा जैसे-जैसे ग्रुप के पास सकोरे उपलब्ध
होंगे वह तुरंत ही मोहल्ले मोहल्ले स्कूल स्कूल जाकर है वासियों को यह
सकोर उपलब्ध कराता रहेगा… इस भीषण गर्मी में जहां इंसानों को पानी
प्राप्त नहीं हो पा रहा है वहां उन बेजुबान पक्षियों के लिए ग्रुप विदिशा
के सभी नागरिकों से अपील करता है कि सभी अपने घर की छत पर इस तरह के
सकोरे जरूर रखें एवं लगातार उस में पानी भरते रहे यह सकोरे आसानी से हर
मिट्टी के घड़े बेचने वालों के पास उपलब्ध रहते हैं एवं बहुत ही कम कीमत
के रहते हैं… पशु पक्षियों की सेवा से बड़ा पुण्य कार्य और कोई नहीं
होता है… पक्षी जो रोज अपने दाने की व्यवस्था के लिए अपने घोसले से उड़
कर दूर तक जाते हैं उन्हें वापस लौटने में पानी अगर मिल जाता है तो उनको
जीवनदान ही मिलता है…

Leave a Comment

error: Content is protected !!