कथावाचक यजमान ग्रामीणों ने शांति सद्भाव के लिए सेवा का संकल्प दिलाया

बल्देवगढ़ टीकमगढ़ मई 2019 श्री श्री 1008 प्रथम 9 कुंड आत्मक श्रीराम महायज्ञ एवं श्रीमद् भागवत कथा रामलीला का भव्य आयोजन सिद्ध पीठ अंजनी माता मंदिर सुजानपुरा 22 मई से शुरू हुई जिसका समापन 29 मई 2019 को कन्या भोज भंडारे के साथ समाप्त होगा इस आयोजन में ग्राम सुजानपुरा के सभी भक्तों ने जन सहयोग से आसपास के ग्राम सुजानपुरा जिन्ना गढ़ बनियानी बिलोनी शकरनपुर श्यामपुरा सिजोरा खजवा ई बलवंतपुरा जठेदार की देवी नगर डगरूआ जंगल जूनागढ़ बंदिया खरगापुर बल्देवगढ़ आसपास के भक्तों ने इस आयोजन को सफल बनाने में सहयोग प्रदान किया है
कथावाचक पंडित राकेश शास्त्री जी वृंदावन धाम ने बताया कि मनुष्य की इच्छाएं अनंत होती हैं जिसमें वह काम क्रोध लोभ से ग्रस्त बना देता है भक्ति का भाव नहीं जिओ में लापता है भक्ति लाने के लिए श्रद्धा विश्वास और भक्ति तीनों को लेकर मनुष्य अपने जीवन को मोक्ष का रास्ता खोज कर धर्म कर्म के आधार का करता है जबकि हमारा धर्म शास्त्र सीधा-सीधा कर्म प्रधान पर निर्भर है इसी को लेकर के बल्देवगढ़ क्षेत्र के सुजानपुरा में विभिन्न क्षेत्रों के जन सहयोग से यह धार्मिक कथा भागवत कथा मानस प्रवचन यज्ञ हवन पूजन कार्यक्रम चल रहे हैं इसी क्रम में नौगांव नगर के रहने वाले बुंदेलखंड के समाजसेवी संतोष गंगेले कर्म योगी ने इस धार्मिक आयोजन में धर्म आचार्य वेद आचार्य कथावाचक यज्ञ हवन कराने वाले कर्मकांड सभी ब्राह्मणों का तथा धार्मिक आयोजन में भाग लेने वाले यजमान ओं का ग्राम की बेटियों का कथा व्यास गद्दी के समक्ष सभी का सम्मान किया और ग्रामीण क्षेत्रों के सैकड़ों नागरिकों के बीच भारतीय संस्कृति और संस्कार बचाने नैतिक शिक्षा को घर-घर पहुंचाने आध्यात्मिकता और धर्म कोई अलग जगाने के लिए सभी को संकल्प दिलाया वेद आचार्यों का सम्मान किया गुलाबों की पुष्प वर्षा की गई के ग्रामों के माध्यम से पंडित आचार्य श्री पंडित प्रभु दयाल शास्त्री काशी वाराणसी जी वेदाचार्य के मार्गदर्शन में ग्राम सुजानपुरा हनुमान जी मंदिर पर के भक्तों द्वारा विश्वकल्याण को लेकर के धार्मिक यज्ञ हवन पूजन कन्या पूजन भागवत कथा 9 कुंड आत्मक एवं श्रीराम महायज्ञ पुराण वेद शास्त्रों का वाचन किया जा रहा है
धर्म के प्रति आस्था रखते हुए धर्म लाभ प्राप्त कर रहे हैं इसी पंडाल के नीचे समाज में भारतीय संस्कृति बचाने संस्कार जीवित रखना नैतिक शिक्षा का विकास करने के लिए बुंदेलखंड के समाजसेवी संतोष गंगेले कर्म योगी द्वारा यज्ञ के बीच राष्ट्रीय एकता राष्ट्रीय समरसता राष्ट्रभक्ति के लिए विभिन्न विचारों को लेकर उपस्थित जनसमूह को समझाया तथा उन्हें संकल्प दिलाया कि वह है जीवो की रक्षा करें मानव कल्याण में सहयोग करें तथा पीड़ित परिजनों की मदद करें माता पिता की सेवा करें बेटियों की सुरक्षा वर उनकी शिक्षा पर ध्यान दें इसी से श्रद्धा विश्वास भक्ति का रास्ता तय होगा जिस पर सभी भक्तों ने अपने दोनों हाथ उठाकर संकल्प लिया
इस धार्मिक आयोजन की उपस्थित सभी वेदाचार्य आचार्यों ने सामाजिक काम करने के लिए समाजसेवी संतोष गंगेले का मंत्रों द्वारा आशीर्वचन देकर समाज सेवा देश सेवा करने का आशीर्वाद दिया गया
प्रत्येक साधु संतो के विचारो से समाज में परिवर्तन आ सकता है -हरेंद्र शास्त्री जी
————————————————–
पलेरा टीकमगढ़ – वर्तमान समय में समूचे क्षेत्र में धार्मिक आयोजन श्रीमद भगवत कथाये हो रही है साथ ही यज्ञ हैं पूजन श्री राम लीलाएं श्री कृष्ण लीलाओ के माध्यम से समाज में व्याप्त कुरुतियां को दूर किया जा सकता है। इस कार्य के लिए कथा बाचक प्रबचन कर्ता पंडितो को अपने कर्तब्यो को समाज को देना होगा। ऐसे सामाजिक कार्यो से प्रत्येक साधु संतो के विचारो से समाज में परिवर्तन आ सकता है
उपरोक्त विचार पंडित श्री हरेंद्र शास्त्री जी गौना बालो ने गड़ारी खजरी श्री हनुमान जी मंदिर पर साप्ताहिक श्रीमद भागवत कथा के दौरान कहीं इस अवसर पर समाज को दिशा देने और समाज की साशा सुधारने के लिए समाज सेवी संतोष गंगेले कर्मयोगी ने कथा पंडित श्री हरेंद्र शास्त्री जी श्रो राम चंद्र पाठक श्री राजेंद्र अवस्थी जी श्री पाऊँ रिछारिया जी मंदिर के आचार्य श्री आशीष गिरी महाराज साकेत महंत केदारेश्वर और बेटिओ का सम्मान किया तथा नशा मुक्ति ,दुर्घठनो को रोकने यातायात नियमो का पालन करने। दहेज़ के कलंक को मिटाने ,नैतिक शिक्षा को जन जन तक पहुँचाने के लिए संकल्प दिलाया। संतो पर पुष्प बर्षा की गई उनका सम्मान किया गया.

Leave a Comment

error: Content is protected !!