जल अमृत है इसे सहेजे – गौतम

बीकानेर, 15 जुलाई। ’’जल अमृत हैं, इसको सहज कर रखना हमारा कर्तव्य है, हमें जल संरक्षण को जन-आन्दोलन बनाना होगा, जिससे आगे आने वाली पीढियों को जल की उपलब्धता सुनिश्चित होगी। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने सोमवार को जल शक्ति अभियान के तहत आयोजित प्रभात फेरी कार्यक्रम में आमजन को सम्बोधित कर रहे थे। प्रभात फेरी का आयोजन जिला कलेक्ट्रेट के सामने से तुलसी सर्किल होते हुए गांधी पार्क तक किया गया।
गौतम ने कहा कि अपने अस्तित्व के लिए जल बचत आवश्यक है, इस मुहिम को जन-जन तक पहुँचाना हमारा फर्ज है। उन्होंने कहा कि इसके लिए जन-जागरूकता की मुहिम को लगातार चलाने की आवश्यकता है, पानी की जरूरतंे लगातार बढ़ती जा रही हंै और भू-जल स्तर लगातार घट रहा है। उन्होंने इस अवसर पर जल स्ंारक्षण की शपथ भी दिलाई।
अतिरिक्त कलक्टर (प्रशासन) ए.एच.गौरी ने कहा की जल शक्ति अभियान जन जागरण के लिए काफी महत्वपूर्ण सिद्ध होगा तथा जल संरक्षण का संकल्प हमें स्वंय लेते हुए जन-जन तक पहुँचाना होगा। इस अवसर पर एन.डी.आर. एफ’. की टीम ने भी जल संरक्षण, स्वच्छता व आपदा प्रबन्धन विषय पर विद्याार्थियों से व्यक्तिगत चर्चा की। टीम कमाण्डर ई. अशोक सिंह सुतलिया व 15 सदस्य टीम 15 जुलाई से आगामी 20 जुलाई तक जिले में आपदा प्रंबन्धन , जल संरक्षण, स्वच्छता विषयों पर जन-जागरूकता अभियान चलाएगी।
मुख्यकार्यकारी अधिकारी जिला परिषद् नरेन्द्र पाल सिंह ने बताया कि जिला कलक्टर के निर्देशानुसार इस तरह के जन-जागरूकता कार्यक्रम जिले की सभी पंचायत समिति व जिला मुख्यालय पर आगामी चरणों में 22 जुलाई , 29 जुलाई व 14 अगस्त को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएगंे। कार्यक्रम का संचालन गोपाल जोशी समन्वयक आई.ई.सी. ने किया।
इस अवसर पर सचिव नगर विकास न्यास सुनीता चैधरी, उपखण्ड अधिकारी कैलाश चन्द्र शर्मा, जलग्रहण के अधीक्षण अभिंयता भागीरथ विश्नोई, स्वच्छ भारत मिशन के जिला समन्वयक पवन पंचारिया व स्कूल शिक्षा के अधिकारी व कर्मचारी, स्कूली विद्याार्थियों, अध्यापकों व प्रबुद्ध नागरिक गण ने भागीदारी निभाई।

Leave a Comment