सिन्धी समाज से घर में रहकर झूलेलाल जयंति मनाने की अपील

नागौर, 24 मार्च। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते हैं डॉक्टर लाल थदानी संयुक्त निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं जयपुर एवं प्रभारी अधिकारी जिला नागौर ने सिंधी समाज से अपील की है
कि जैसा कि पूरे भारत में इस समय कोरोना महामारी के कारण हमारे सिन्धी समाज के इष्टदेव भगवान “झूलेलाल” के जन्मोत्सव “चेटीचण्ड”के अवसर पर निकलने वाले भव्य जुलूस नही निकालने का निर्णय हुआ है।अपने मौहल्लों व कॉलोनी में मन्दिरों में चेटीचण्ड के अवसर पर भीड़ भाड़ इकट्ठी न करें।
का निर्णय हुआ है।
डॉक्टर थदानी ने आह्वान किया है कि भगवान झूलेलाल के जन्मोत्सव पर बुधवार 25 मार्च को प्रातः 9-00 बजे 5 मिनट इसी तरह तालियां, थालियां व शँख आदि बजाकर तथा “अजु-त मुहिंजो लाल आयो, छेरियूं पाए नचां” गाना अपने मोबाइल में download करके बजाकर व गाकर अपने इष्टदेव के जन्म की खुशियां मनाएं। उन्होंने अपील की है कि सांयकाल अपने -अपने घर में छत व बॉलकोनी में 11 दीपक कम से कम 3 घण्टे जलाएं व झूलेलाल भगवान की आरती करें।
भारत के सभी शहरों में रहने वाले सिन्धी समाज के नागरिक अपने -अपने मोहल्लों व कॉलोनियों में व्हाट्सएप्प व अन्य सोशल मीडिया द्वारा ये सन्देश पूरे देश में फैलेे हुए अपने समाज में फैलाएं। वसुदेव कुटुम्बकम के प्रतीक इष्टदेव झूलेलाल कोरोना प्रकोप से विश्व को जल्द मुक्त करें सबके स्वास्थ्य की मंगल कामना भी करें ।
डॉ लाल थदानी स्वयं नागौर में रहकर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में समन्वय और व्यवस्थाओं में जुटे हुए हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!