लंबित कृषि आवेदकों को मार्च तक दें कनेक्शन-भाटी

अजमेर, 14 जनवरी। अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध निदेशक श्री वी.एस. भाटी ने डिस्कॉम के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अपने-अपने क्षेत्रों में लंबित कृषि आवेदकों को मार्च तक कनेक्शन जारी करें। इसके साथ ही घरेलू व अन्य श्रेणियों के आवेदकों को भी तुरन्त राहत दी जाए। इसी तरह 10 हजार से ज्यादा बकाया वाले उपभोक्ताओ से वसूली की प्रक्रिया भी तेज की जाए।

अजमेर विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध निदेशक श्री वी.एस. भाटी ने डिस्कॉम के सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि निगम ने जो इस साल 103 प्रतिशत राजस्व और 12.88 प्रतिशत से कम छीजत का लक्ष्य तय किया है। इसे हर हाल में पूरा करना है। उन्होंने 11 जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से निर्देश दिए कि जिन उपभोक्ताओं के जीरो उपभोग के बिल दिए जा रहे है उन परिसरो की सघनता से जांच कर वास्तविक उपभोग के बिलिंग की कार्यवाही करें। प्रोविजनल बिलिंग भी 1 प्रतिशत से कम करना सुनिश्चित करे।

उन्होंने कहा कि स्वैच्छिक भार वृद्वि योजना के तहत 34033 कृषि उपभोक्ताओं को 30 रु प्रति. एचपी की दर से भार बढा कर इस योजना का लाभ दिया गया हैं। इससे कृषि उपभोक्ता विद्युत के बढे हुए भार की सर्तकता जांच से भी बचेंगे व निगम के राजस्व में भी बढोतरी होगी। सभी वृत्त अधिकारियों को निर्देश दिए गए की लंबित कृषि कनेक्शन जिनके मांग पत्र की राशि जमा है उन्हे हर संभव मार्च 2021 तक कनेक्शन देकर लाभांवित करे। लंबित घरेलू कनेक्शन, अघरेलू कनेक्शन, खराब व बंद मीटर बदलने (सिंगल व थ्री फेस) क्रॉस मीटर रीडिंग व सरकारी दफ्तरों के बकाया के बारे में पूर्ण जानकारी लेते हुए निर्देश दिए गए कि जहां पर भी कनेक्शन लंबित है उन्हें शीघ्र ही जारी कराया जाए उपभोक्ताओं को 24 घंटे विद्युत आपूर्ति दी जाए। विद्युत उपभोक्ताओं को बिलिंग एवं विद्युत आपूर्ति संबंधी कोई भी समस्या आती है तो उसका निदान तुरंत करें। निगम के अधिकारी विद्युत संबंध विच्छेद व स्थाई विद्युत संबंध विच्छेद वाले उपभोक्ताओं पर भी विशेष ध्यान केंद्रित कर वसूली करें। जिन उपभोक्ताओं की 10 हजार रूपये से ज्यादा की बिल राशि बकाया है उनसे वसूली तेज की जाए।

बैठक में सभी लेखाधिकारियों को निर्देश दिए गए कि द्वारा सभी कार्यालयों में सम्पति रजिस्टर का पूर्ण विवरण इंद्राज करने एवं अपूर्ण रिकॉर्ड को मार्च 2021 तक पूर्ण करेें। लंबित अंकेक्षण आक्षेप का भी शीघ्र निस्तारण करें।

उन्होंने बिलिंग स्टेटस, टी एण्ड डी लोसेज, एटी एण्ड सी लोसेज, कृषि कनेक्शन, घरेलू कनेक्शन, पीएचईडी कनेक्शन, औसत बिलिंग, बंद एवं खराब मीटर, राजस्व वसूली, सतर्कता जांच समीक्षा, कन्ज्यूमर टैगिंग, एनर्जी ऑडिट, फोटो रीडिंग, विद्युत उपभोक्ताओं की शिकायतों के निस्तारण की स्थिति व सरकारी दफ्तरों के बिजली बिलों के बकाया सहित अनेक महत्वपूर्ण विषयों पर वृत्तवार सभी वरिष्ठ अधिकारियों से विस्तृत जानकारी ली।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पंचशील स्थित मुख्यालय से निदेशक तकनीकी श्री के.एस सिसोदिया, मुख्य लेखा नियंत्रक श्री एस. एम.माथुर, मुख्य लेखाधिकारी श्री बी.एल शर्मा, टी.ए.टू. एम.डी. श्री राजीव वर्मा एवं कम्पनी सचिव श्रीमति नेहा शर्मा व अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहें।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

error: Content is protected !!