बाइयों की एकजुटता अनूठी, पर कायम रखना कठिन

कांग्रेस कच्ची बस्ती प्रकोष्ठ की अध्यक्ष सुशीला चौधरी की पहल और दैनिक भास्कर के समर्थन से शहर में पहली बार पॉश कॉलोनियों के बंगलों में काम करने वाली बाइयों को एकजुट करने का अनूठा प्रयोग किया गया है। माकड़वाली रोड स्थित रामदेव नगर कच्ची बस्ती से शुरू हुआ आंदोलन वैशाली नगर, एलआईसी कॉलोनी, आनंद नगर … Read more

सिंगारिया की धमाकेदार शुरुआत का प्रतीक है इंदिरा स्मारक

अजमेर में रेलवे स्टेशन रोड पर जिस इंदिरा गांधी स्मारक की चर्चा इन दिनों खूब हो रही है, वहां पर इंदिरा गांधी की मूर्ति स्थापित होने पर उसका श्रेय भले ही नगर सुधार न्यास सदर नरेन शहाणी भगत के खाते में जाए अथवा तुरत-फुरत में एनओसी देने के लिए नगर निगम मेयर कमल बाकोलिया की … Read more

क्या वापसी पर नरवाल पाला बदल लेंगे?

भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा अजमेर शहर जिला अध्यक्ष पद पर देवेंद्र सिंह शेखावत की नियुक्ति की विरोध करने वाले प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अनिल नरवाल भले ही बहाल हो गए हैं, मगर ये सवाल आज भी खड़ा है कि क्या वे इस वजह से अपना पाला बदल लेंगे? असल में ये सवाल इस वजह से … Read more

अब हेमा गहलोत बढ़ रही हैं तेजी से आगे

अजमेर की राजनीति में हेमा गहलोत का नाम अब किसी परिचय का मोहताज नहीं है। कुछ अरसे पहले जरूर उन्हें अजमेर में प्रथम मेयर धर्मेन्द्र गहलोत की धर्मपत्नी के रूप में जाना जाता था, मगर अब उन्होंने अपनी खुद की पहचान बनाना शुरू कर दिया है। हाल ही उन्होंने केन्द्रीय कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल द्वारा … Read more

क्या नई संभागीय आयुक्त इस ओर ध्यान देंगी?

अजमेर निवासी अतुल शर्मा के सेवानिवृत्त होने के बाद संभागीय आयुक्त के पद पर 1985 बैच की आईएएस किरण सोनी गुप्ता ने कार्यभार संभाल लिया है। अपनी पहली ही बैठक में उन्होंने कलेक्टर वैभव गालरिया से अजमेर में चल रही विभिन्न विकास योजनाओं की जानकारी ली। ट्रैफिक, पानी, पार्किंग, सीवरेज व अन्य समस्याओं के बारे … Read more

अजमेर ने खो दिया मार्केटिंग का इकलौता बादशाह

सोनिया और करिश्मा प्रदर्शनी की बदोलत लोकप्रिय मार्केटिंग गुरू श्री वासुदेव वाधवानी का निधन अजमेर के लिए एक अपूरणीय क्षति है, जिसकी पूर्ति कत्तई असंभव है। पैंतालीस स्वर्गीय वाधवानी पहले शख्स थे, जिन्होंने मात्र पच्चीस साल ही उम्र में ही दिखा दिया था कि उनमें मार्केटिंग का बेजोड़ गुर है। उस जमाने में न तो … Read more

क्या ये अराजकता प्रशासन की समझ में नहीं आ रही?

स्कूलों का समय यथावत रखने को लेकर सावित्री स्कूल के बाद राजकीय गुलाबबाड़ी स्कूल की छात्राओं ने भी जिस प्रकार सड़कों पर आ कर प्रदर्शन किया है, उससे यह साफ नजर आने लगा है कि अपने हक और मांग की खातिर अराजक व अनियंत्रित तरीके की बीमारी जोर पकड़ रही है। इसके बावजूद प्रशासन का … Read more

छात्राओं का हंगामा : क्या यह अराजकता का आगाज है?

सावित्री स्कूल की छात्राओं द्वारा गत दिवस स्कूल का समय बदलने के विरोध में किए गए हंगामे के साथ यह सवाल उठ खड़ा हुआ है कि कहीं लोकतंत्र में अपने अधिकारों को हासिल करने के लिए हम अराजकता की ओर तो नहीं बढ़ रहे? क्या यह ऐसी जागरुकता है, जो हमें पूरी व्यवस्था को छिन्न … Read more

जो चाहते थे, वह नहीं कर पाए संभागीय आयुक्त अतुल शर्मा

भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी अतुल शर्मा 39 वर्ष की राजकीय सेवा के बाद सेवानिवृत्त हो गए। अजमेर में उन्होंने 15 जून 2009 को कार्यभार संभाला और करीब सवा तीन साल तक रहे। इस दौरान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड में अध्यक्ष और एमडीएस यूनिवर्सिटी में प्रशासक का दायित्व भी निभाया। शर्मा आमजन के लिए हमेशा … Read more

चंद माह में ही अजमेर से रुखसत कैसे हो गईं पुष्पा सत्यानी?

इसी साल अजमेर नगर सुधार न्यास में सचिव पद पर नियुक्त हुईं श्रीमती पुष्पा सत्यानी चंद माह में ही अजमेर से रुखसत हो गईं। जाहिर है यह सवाल तो उठना ही है कि क्या सरकार को उनका कामकाज पसंद नहीं आया या वे स्वयं यहां नहीं रहना चाहती थीं। जैसी कि जानकारी है, न्यास सदर … Read more

केजरीवाल की पार्टी बिना आत्मा का शरीर?

लोकपाल व काले धन के मुद्दे पर एक हो कर केन्द्र सरकार हमला बोलने वाले अन्ना हजारे व बाबा रामदेव के समर्थक कल तक गलबहियां करते हुए एक होने का प्रहसन करते थे, आज टीम अन्ना के अहम सदस्य अरविंद केजरीवाल के राजनीतिक पार्टी बनाने की दिशा में कदम उठाने के बाद एक दूसरे का … Read more

error: Content is protected !!