भाजपा पुनः खेल सकती है जाट कार्ड

लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा इस बार भी अजमेर सीट से जाट उम्मीदवार को चुनाव मैदान में उतार सकती है। यही वजह है कि बाहरी व क्षेत्रीय दावेदार टिकट पाने की जुगत कर रहे हैं। जहां क्षेत्रीय जाट दावेदार के रूप में केकड़ी के युवा भाजपाई सत्यनारायण चौधरी व किशनगढ़ के पूर्व विधायक भागीरथ चौधरी का नाम चर्चा में है वहीं बाहरी उम्मीदवार के रूप में केंद्रीय मंत्री सी.आर.चौधरी का नाम चर्चा में आया है। केकड़ी के सत्यनारायण चौधरी ने प्रदेश नेतृत्व को अजमेर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा की ओर से अपनी दावेदारी पेश की है। चौधरी अपनी दावेदारी पेश करने के लिए राजस्थान के प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर, प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी व महामंत्री चन्द्रशेखर सहित अन्य नेताओं से मिल चुके हैं। चौधरी युवा होने के नाते अपनी दावेदारी मजबूत व प्रबल मानकर चल रहे हैं। सत्यनारायण चौधरी वर्तमान में भाजपा के जिला मंत्री हैं। वे पूर्व में भाजपा युवा मोर्चा के शहर अध्यक्ष रह चुके हैं। साथ ही वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सदस्य हैं वहीं वे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्य भी रहे हैं। वे बजरंग दल के संयोजक के रूप में भी काम कर चुके हैं। वहीं वे कई समाजसेवी संस्थाओं से जुड़कर समाज सेवा के कार्यों में अग्रणी भूमिका निभाते आये हैं। केकड़ी क्षेत्र सहित पूरे लोकसभा क्षेत्र में उनकी कार्यकर्ताओं के बीच अच्छी खासी पहचान है। लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत वे भाजपाइयों, समाज के लोगों व आमजन से निरंतर सम्पर्क में हैं। चौधरी अजमेर लोकसभा क्षेत्र से टिकट पाने के लिए कई महीनों से लगातार प्रयास कर रहे हैं वहीं भाजपा के शीर्ष नेताओं से सम्पर्क में हैं। जिला मंत्री सत्यनारायण चौधरी का कहना है कि चुनाव के लिए टिकट मांगना हर कार्यकर्ता का अधिकार है। यही वजह है कि उन्होंने भी दावेदारी पेश की है। पार्टी उन्हें टिकट देती है तो अच्छा है अगर पार्टी किसी अन्य कार्यकर्ता या नेता को टिकट देती है तो भी वे पार्टी के लिए काम करेंगे और पार्टी के उम्मीदवार को भारी मतों से विजय दिलाने के लिए जी जान से प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि उम्मीदवार कोई भी हो उनका लक्ष्य केवल भाजपा को जीत दिलाना व नरेंद्र मोदी को एक बार फिर से प्रधानमंत्री बनाना है। उन्होंने दावा किया कि देश में भाजपा को 300 से अधिक व राजस्थान में भाजपा को 25 में से 25 सीटें मिलेंगी। उन्होंने कहा कि पूरे देश मे मोदी की लहर है, देश के मतदाता एक बार फिर मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं। उधर अन्य जातियों के नेता भी दावेदारी कर रहे है जो टिकट की जुगत में हैं जिनमें मुख्यतः पूर्व मंत्री डॉ नाथूसिंह गुर्जर, पूर्व जिलाप्रमुख पुखराज पहाड़िया, सरिता गेना, भंवर सिंह पलाड़ा, सुरेंद्र सिंह शेखावत, जिलाध्यक्ष प्रो बी पी सारस्वत, पूर्व प्रधान रिंकू कंवर राठौड़, युवा नेता डॉ मिथलेश गौतम अन्य के नाम शामिल हैं।

Leave a Comment