इक्कीस दिवसीय शीतकालीन प्रशिक्षण शिविर का समापन सोमवार को

बीकानेर, 2 दिसम्बर। स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के कृषि व्यवसाय प्रबंधन संस्थान में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा प्रयोजित ‘कृषि विकास में अंतनिर्हित एवं उद्यमिता कुशलता’ विषयक 21 दिवसीय शीतकालीन प्रशिक्षण का समापन सोमवार को होगा। ग्यारह बजे आइएबीएम सभागार में होने वाले समापन समारोह के मुख्य अतिथि भारतीय कृषि अनसंधान परिषद के सहायक निदेशक डाॅ. गरिकापाटी वेकटेंशवरूल्लू होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रोफेसर बी. आर. छीपा करेगें।
प्रशिक्षण निदेशक डाॅ. वाई सुदर्शन ने बताया कि प्रशिक्षण में आन्ध्रप्रदेश, पंजाब, गुजरात एवं राजस्थान के 20 प्रतिभागियों ने भाग लिया। इनमें 12 महिला प्रतिभागी भी शामिल रहीं। प्रशिक्षण में बीकानेर के अलावा हैदराबाद, नई दिल्ली, झालावाड़, जयपुर और जोधपुर के विषय-विशेषज्ञों ने कृषि में उद्यमिता विकास पर जोर दिया। प्रशिक्षण के दौरान डिजिटल कृषि, हाईटेक नर्सरी, डेयरी फार्मिग, मूल्य संवर्धन, बीज उत्पादन, दुग्ध प्रसंस्करण, संरक्षित खेती, बिग डेटा, मशरूम उत्पादन, चारा भण्डारण, बायोजेन्ट उत्पादन, साइबर सुरक्षा, कृषि पर्यटन, किसान वैज्ञानिक मिशन इत्यादि विषयों पर व्याख्यान दिये।
डाॅ. सुदर्शन ने बताया कि प्रयोगात्मक जानकारी के लिए केन्द्रीय शुष्क अनुसंधान संस्थान, राष्ट्रीय उष्ट अनुसंधान केन्द्र, विनायक डेयरी, पौधशाला, कृषि यंत्र व मशीनरी परीक्षण एवं प्रशिक्षण केंद्र के भ्रमण आयोजित किए गए।

Leave a Comment