बीकानरे को मिलेंगे तीन नए राष्ट्रीय राजमार्ग

गडकरी ने किया छब्बीस सौ करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास
बीकानेर, 28 जनवरी। बीकानेर को तीन नए राष्ट्रीय राजमार्ग मिलेंगे। इन में प्रथम बीकानेर से सत्तासर तक दूसरा एनएच कोलायत बज्जू से बांसुरी तक तथा तीसरा राष्ट्रीय राजमार्ग सांखला फांटा से बज्जू होकर निकलेगा। यह घोषणा सोमवार को स्थानीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग परिवहन व जल संसाधन नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने की।
इस अवसर पर गडकरी ने 26 सौ करोड़ रूपए की लागत से बनने वाली 534 किलोमीटर लम्बी सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। उन्होंने कहा कि बीकानेर शहर के अंदरूनी क्षेत्र में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिए रोपवे पर भी विचार किया जाएगा। लोकार्पण और शिलान्यास समारोह में नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 5 बीकानेर से फलोदी तक बने सड़क का लोकार्पण किया। इस सड़क के निर्माण पर 822 करोड़ 90 लाख रुपए खर्च हुए है। इस सड़क के कार्यों में चौड़ाईकरण का कार्य सहित अन्य निर्माण कार्य शामिल हैं। सड़क परिवहन मंत्री ने 1755.26 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले दो राष्ट्रीय राजमार्गों का शिलान्यास किया। इसमें 860. 26 करोड़ रुपए की लागत से अनूपगढ़, घड़साना, सत्तासर, सड़क चौड़ाईकरण करने का कार्य, जिस की कुल लंबाई 162 किलोमीटर से अधिक है, शामिल है। उन्होंने कहा कि सड़कों के सुदृढ़ीकरण हो जाने से यातायात और सुुलभ हो जाएगा तथा नई सड़कों के निर्माण से स्थानीय स्तर पर स्वरोजगार के नए अवसर सृजित हो सकेंगे।
केंद्रीय मंत्री ने खाजूवाला पूगल खंड की 212 किलोमीटर लंबी सड़क का भी शिलान्यास किया। इस पर 895 रूपए का खर्च आएंगा। सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि विकास की राजनीति करना हमारी प्रथम प्राथमिकता है। गत 4 वर्षों में केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश में विकास की गंगा बहाई गई है और आप सब लोग देखना कि राजस्थान में भी जो बड़े तालाब हैं वहां हवाई जहाज भी उतरेगा। साथ ही प्रदेश के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि गरीब व्यक्ति को रोजगार मिले और किसान को उसकी खेती का पूरा पैसा मिले, इसके लिए सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि बीकानेर में 3 नए राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण सहित स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल द्वारा बीकानेर के विकास के लिए दिए गए प्रस्ताव पर शीघ्र ही कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि बीकानेर में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिए वेब कोर्ट के माध्यम से एक तकमीना बनाया जाएगा, जिसमें शहर के हेरिटेज रूट पर रोपवे के माध्यम से आम लोगों को गंतव्य स्थान तक पहुंचाया जाएगा, इसमें प्रथम चरण में 10 किलोमीटर का एरिया चिन्हित किया जाएगा। जिसमें रेलवे स्टेशन से पीबीएम अस्पताल, शीतला गेट और हेरिटेज रास्ते पर यह रोपवे चलेगा। इस कार्य पर प्रथम चरण के लगभग 715 करोड रुपए खर्च होंगे और इसका किराया इतना रखा जाएगा कि आम आदमी इसका लाभ ले सकेगा। यह कार्य बीकानेर में मॉडल ट्रांसपोर्ट सल्यूशन के तहत विकसित किया जाएगा।
इस अवसर पर पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय मानकों तथा देश के विभिन्न शहरों में चल रहे रोपवे के बारे में बीकानेर शहर के आम लोगों को बताया गया कि किस तरह रोपवे से यातायात सुगम किया जा सकेाग। उन्होंने कहा कि इसके बनने से स्टेशन के आसपास बाजार भी विकसित होगा, जिससे स्थानीय लोगों के रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।
इस अवसर पर स्थानीय सांसद व केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि सड़कों के लोकार्पण हो जाने से यातायात सुगम होगा और बीकानेर से जैसलमेर फलोदी तक का यात्रा का समय भी कम लगेगा। जिला मुख्यालय सहित बीच में आने वाले गांव के लोगों को भी इससे फायदा होगा। बीकानेर देश के लिए सामाजिक रूप से भी महत्वपूर्ण जिला है । इन सड़कों के बन जाने से सेना को फायदा होगा।
पॉलिटेक्निक कॉलेज के ग्राउंड में आयोजित समारोह में श्रम और रोजगार राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा कि सड़कों के बन जाने से यातायात सुगम हुआ है और देश में लोगों को रोजगार भी मिला है साथ ही व्यापार में भी बढ़ोतरी हुई है। इस अवसर पर गंगानगर सांसद निहालचंद मेघवाल सहित अन्य वक्ताओं ने विचार रखे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!