भारतीय मछुआरों की गिरफ्तारी

पिछले माह श्रीलंका नौसेना ने 53 भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार कर लिया था. भारत द्वारा विरोध दर्ज कराने के बाद उनमें से 34 मछुआरों को छोड़ दिया गया. इस माह के पहले सप्ताह में श्रीलंका नौसेना ने 26 भारतीय मछुआरों को कथित तौर पर उनके देश की जलसीमा में अवैध शिकार करने के लिए गिरफ्तार कर लिया है तथा उनके साजो-सामान … Read more

फकत हिकु डिहुं नाहें सिंधी भाषा दिवस

-मोहन थानवी- सिंधी भाषा दिवस जो पहिंजो महताव आहे। असांजे समाज लाइ 10 अप्रैल जो मनाइण वारो ईओ डिहुं फकत हिकु डिहं कोन आहे। इनि डिहं जी बदौलत अजु बि असां वटि उवो विरसो संरक्षित आहे, जेको असांजा वडा पहिंजी जन्मभूमि पवित्र सिंधु मूं खाली हथनि सां लडे अचण वक्ति खणी आया हुआ। उवो विरसो आहे … Read more

मुम्बई में शुरू हुआ था लिज्जत, मोदी का कोई योगदान नहीं

-शेष नारायण सिंह- नई दिल्ली में फिक्की लेडीज़ संगठन के अपने भाषण में नरेन्द्र मोदी ने लिज्जत पापड़ पर भी अपनी दावेदारी ठोंक दी और बताया कि गुजरात की आदिवासी महिलायें यह पापड़ बनाती हैं। लेकिन जो लोग लिज्जत पापड़ के आन्दोलन को समझते हैं उनको जो मालूम है वह मोदी जी के दावे से बिलकुल अलग है। इस … Read more

आगामी दिल्ली विधान-सभा चुनाव एक राजनैतिक परीक्षण

-केशव राम सिंघल- अरविंद केजरीवाल ने शनिवार 6 अप्रैल 2013 को 15 दिन बाद अपना उपवास तोड़ दिया. यदि गहराई से सोचा जाए तो भ्रष्टाचार को समाप्त करने और भारतीय राजनीति में क्रांतिकारी बदलाव के लिए अरविंद केजरीवाल का कदम वाकईसराहनीय है. इस उपवास ने यह बात सामने रख दी है कि दिल्ली विधान-सभा का … Read more

पहली बार स्कूल जाने मे डर लगता था

      पहली बार स्कूल जाने मे डर लगता था… आज अकेले ही दुनिया घूम लेते हे ।। पहले 1st नंबर लानेके लिए पढ़ते थे, आज कमाने के लिए पढ़ते हें !! गरीब दूर तक चलता हे… खाना खाने के लिए… अमीर दूर तक चलता हे … खाना पचाने के लिए … कीसी के पास … Read more

समाज में पुरुष सत्ता : हकीकत कुछ और !

-रतन सिंह शेखावत- भारतीय समाज में पुरुष प्रधानता शुरू से नारीवादियों के निशाने पर रही है| इस कड़ी में आजकल सोशियल साईटस पर कुछ प्रगतिशील नारीवाद समर्थक पुरुष और कुछ अपने आपको पढ़ी-लिखी, आत्मनिर्भर, नौकरी करने, अकेले रहने, आजाद ख्यालों वाली, बिंदास पाश्चात्य जिंदगी जीने वाली नारी होने का दावा करने वाली नारियां जो रानी लक्ष्मीबाई, … Read more

राजनेतिक पार्टियों को सुझाव

-नरेन्द्र सिंह शेखावत भारीजा- 1 पार्टी मे अनिवार्य रूप से आंतरिक लोकतंत्र हो और केवल गुप्त मतदान से ही चुनाव हो तथा चुनाव, चुनाव आयोग की देखरेख मे हो इसका पालन न करने पर पार्टी की मान्यता समाप्त हो 2 लोक सभा ,राज्य सभा ,व विधान सभा आदि मे व्हिप जारी करने की व्यवस्था समाप्त … Read more

श्रीलंका में मानवाधिकार उल्लंघन

श्रीलंका में जातीय दंगों के समाचार अकसर सुनने को मिल जाते हैं. देश में सिंहली और ऐलम ‍तमिल के बीच विवाद के फलस्वरूप अभी हाल ही में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में प्रस्ताव पारित हुया. इसके अलावा श्रीलंका में मुस्लिम विरोधी लहर भी यकीनन चिन्ता की बात है. पिछलेदिनों श्रीलंका की राजधानी … Read more

पैसा चुनाव सुधार में सबसे बड़ी समस्या

-बाबूलाल नागा- चुनावों में अब बाहुबल समस्या नहीं रहा, बल्कि धनबल बड़ी समस्या है। इस बात से मुख्य निर्वाचन आयुक्त वीएस संपत भी सहमत है। उनका मानना है कि इसके लिए अर्थवस्था के विकास और अन्य कारण जिम्मेदार है। उनका कहना है कि चुनाव आयोग के पास राजनीतिक दलों के पंजीयन का अधिकार तो है, … Read more

आमजन को समर्पित कांग्रेस पार्टी

कांग्रेस पार्टी आमजन को समर्पित पार्टी है। आमजन के हित और सुविधाओं के लिए सदैव तत्पर और संवेदनषील रहने के कारण ही आज प्रदेषवासियों को कई जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है। आमजन को मुख्यमंत्री निषुल्क दवा और जांच योजना का लाभ काफी लाभकारी साबित होगी। पैसे की कमी या संसाधनों की कमी … Read more

खेती बचाओ देश बचाओ

-बाबूलाल नागा- आज देशभर के किसान और खेती के साथ जुड़े मजदूर, छोटे व्यापारी, कारीगरों को उजाड़ने की साजिश हो रही है। विकास के नाम पर भूमि अधिग्रहण कर किसानों के हाथों से खेती छीनी जा रही है। एक बार फिर देश में दिल्ली-मुंबई औद्योगिक कॉरीडॉर के नाम पर किसानों से लाखों हैक्टर भूमि छीन … Read more