कब तक आजमाओगे

      प्रिय ……….. प्यार के शाब्दिक अर्थ में तुम मुझे नहीं पाओगे विश्वास में पलने वाली मैं, कब तक आजमाओगे हंसने-रोने और पाने-खोने से मैं ऊपर आ गई हूँ इन सबके सितम से अब दिल को ना दुखा पाओगे जिस चिराग से रौशन है दिल का दरबार मेरा उम्मीद के इस शम्मा को … Read more

कालादेह में देश का पहला लोक जनसुनवाई सहायता केंद्र

राजसमन्द जिले की भीम व अजमेर जिले की ब्यावर तहसील ऐतिहासिक पृष्ठभूमि तैयार करती है। कर्नल टॅाड ने भी इस इलाके में रहकर इतिहास रचा। वहीं सूचना का अधिकार अधिनियम कानून की मांग को लेकर पहली बार आन्दोलन ब्यावर से आरम्भ किया गया तथा महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारण्टी कानून की मांग व न्यूनतम मजदूरी … Read more

इन्हीं आशा अटकै रहियो

एक धोबी का और एक कुम्हार का गधा था। दोनों दोस्त थे। काफी समय पश्चात एक दिन रास्ते में दोनों मिल गए। दुआ सलाम के बाद कुम्हार के गधे ने धोबी के गधे से पूछा, और क्या हाल-चाल हैं यार? तो धोबी के गधे ने उत्तर दिया कि सब ठीक है, तुम सुनाओ तुम्हारा क्या … Read more

तो क्या हम आतंकवादी हैं ?

पता नहीं क्यों आजकल कांग्रेसी नेताओं की जबान कुछ ज्यादा ही क्यों फिसल रही है क्यों हर बार फिर उन्हें कहना पड़ता है की मेरे कहने का अर्थ यह नहीं था । देश का दुर्भाग्य देखिये है की जिस देश को हिंदुस्तान कहा जाता है वहीँ हिन्दुओ को आतंकवादी कहा जाता है । बार बार … Read more

सत्ता जहर है तो काहे को पी रहे हैं

जयपुर शहर में आम इंसानों को तकलीफें दे कर, सड़कों पर जाम लगा कर, लाखों करोड़ों रुपये खर्च करके कांग्रेस चिन्तन शिविर का आयोजन किया गया। उस चिंतन शिविर में किस-किस को फायदा हुआ, सोचने की बात है। सवाल है कि क्या शिविर में सर्वाधिक चिंतनीय विषया भ्रष्टाचार को कम करने की बात की गयी? … Read more

शहद-एक उपयोगी औषधि

प्रक्रति का अनूठा करिश्मा की शहद को हजम करने की आवश्यकता नहीं होती यह एक स्वयं पचा हुआ पोषक आहार है, इसके सेवन से शरीर को सीधे तोर पर उर्जा मिलती है जिसका उपयोग बच्चे, बूढ़े, जवान और रोगी सभी कर सकते है । शहद जितना पुराना होता है उतना ही श्रेष्ठउ भी होता है … Read more

लाइव दिखाने वालों से पूछो, केजरीवाल कहां हैं

हमारे देश में शक्तिशाली उद्योगपति वर्ग का अंदाजा आप इस बात लगा सकते है की इन्होने कई बार सरकारों के मंत्रियो को हटाने व बनाने में अपना अहम रोल अदा किया था और यहाँ तक सरकारों को बचाने में बिगाड़ने में भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है और ये वर्ग चाहता है कि सरकारे व दुसरे दलो … Read more

The space stuck between masters and slaves must be bridged

The universe is all about a series of sequence. Becoming God is all about realization. The idea of a Creationist God makes humanity entirely reliant on him. We are his slaves. The Abrahamist religions are all about slavery to “God”. Complete obedience is demanded. People are expected to “submit”. GOD IS ESSENTIALLY LINKED TO A … Read more

उमराव जान, जिसे प्यार न मिला

कितने आराम से हैं कब्र में सोने वाले कभी दुनिया में था फिरदौस में अब है मसकन कब्र कैसी अहले वफा की है अल्ला-अल्ला सबको गम जिसका है वह दोस्त है या दुश्मन। वाराणसी के फातमान कब्रिस्तान में एक तरफ शहनाई सम्राट उस्ताद बिस्मिलला खां आराम फरमां हैं तो दूसरी तरफ अपनी अदाओं जल्वों से … Read more

ये तेरा हरामे हलाल है

तेरे सोच और मेरे सोच में इतना फर्क क्यों है? मेरा देश स्वर्ग और तेरा देश आज नर्क क्यों है? मती मारी गयी जबसे तू खाने लगा है दान की। नही भाती आज कल रोटी भी तुझे इमान की। रास्ता भटक गया तूने खुदाये इबादत छोड़दी, इबादत करने लगा है आज कल तू शेतान की। … Read more

अजब अजमेर की गजब राजनीति

-रासबिहारी गौड – अजब अजमेर की गजब राजनीती में चुनावी आहट से थोड़ी बहुत हरकत में आई है  ठिठुरती ठण्ड में नेता थोड़े थोड़े गर्म हुए हैं और अपनी गर्मी निकालनें के लिए अखाड़ा ढूंढ़  रहे हैं . अजमेर में दो दल हैं ,यानी दो बार दल दल है ,कुल मिलाकर अजमेर की राजनीती में दल-दल है … Read more